अब तक 1002 लोगों ने लडा है चुनाव

0
301

16_11_2012-15loksabhaelec1लोकल इन्दौर14 नवम्बर।,इन्दौर जिले में 1952 से लेकर अब तक हुए विधानसभा चुनाव में 1002 उम्मीदवारों ने अपना भाग्य आजमाया है.इस दौरान चार उपचुनाव भी हुए. लोकल इंदौर द्वारा किए विश्लेषण के मुताबिक वही अब तक के हुए चुनाव में सबसे ज्यादा 157 उम्मीदवार 1993 कें चुनाव में खडे हुए थे और विधानसभा क्रमांक पांच में सबसे ज्यादा 33 उम्मीदवार थे।

इसके बाद 1990 में 150 उम्मीदवारों खडे हुए और इस बार क्षेत्र क्रमांक चार में सबसे ज्यादा 32 उम्मीदवार मैदान में थें.सबसे कम उम्मीदवार 1957 के चुनाव में थें. इस चुनाव में सिर्फ 18 उम्मीदवार चुनाव लडे. 1952 में जिलें में सिर्फ छह विधानसभा सीटे थी. 1962-77 और 2008 के परिसीमन में तीन सीटे बढी. जिसमें एक ग्रामीण क्षेत्र की तो दो शहरी क्षेत्र की थी.
1952 में हुए पहले विधानसभा चुनाव में इन्दौर जिले के अंतर्गत छह सीटे थी. उस समय वर्तमान इन्दौर-एक को सिटी-ए, दो को सिटी-बी,तीन को सिटी-सी और चार को सिटी-डी के रुप में पहचाना जाता था.उसके बाद 1957 के चुनाव में इसका नाम बदल कर सिटी-ए सेंट्रल,सिटी-बी ईस्ट,सिटी-सी वेस्ट और सिटी-डी इन्दौर रख दिया गया. 1962 के चुनाव में सेंट्रल विधानसभा इन्दौर-एक बन गई. इस वर्ष जिलें में नई विधानसभा क्षेत्र के रुप में सांवेर अस्तित्व में आया.इस समय तक शहर में चार और ग्रामीण की तीन सीटे थी. 1977 के परिसीमन के बाद शहर में विधानसभा सीटों की संख्या बढकर पांच हो गई और शहरी क्षेत्र की नई सीट इन्दौर क्रमांक-पांच बनी. 2008 के परिसीमन में एक और सीट का इजाफा हुआ और नई सीट राऊ बनी. राऊ सीट बनने के बाद इन्दौर जिले में नौ विधानसभा सीटे हो गई.
1952-57 और 67 के चुनाव में देपालपुर से (9,5 और 7) 1962-85,90,98 और 2003 में क्षेत्र क्रमांक चार से (7,19,32,13,11) 1972-77 में क्षेत्र क्रमांक-दो (9-9) 1980 में क्षेत्र क्रमांक-एक से (11) 1993 और 2013 में क्षेत्र क्रमांक-पांच से (33-17) तथा 2008 में सांवेर और महू से (11-11) उम्मीदवार मैदान में थें.वही सबसे कम उम्मीदवार 1952 में क्षेत्र क्रमांक-तीन और महू से 3-3 1957 में क्षेत्र क्रमांक-एक वा दो से 2-2 1962 में दो,तीन,देपालपुर और सांवेर से 4-4 1967 में एक,तीन,सांवेर और महू से 3-3, 1972 में सांवेर से 3, 1977 में सांवेर और महू से 4-4 1980 में सांवेर से 4 1985 में देपालपुर से 3 1990 में सांवेर से 9 1993 में देपालपुर से 7 1998 में महू से 3 2003 में एक से 6, 2008 में तीन से 7 और 2013 में चार तथा राऊ से 6 लोग मैदान में है.
दुसरी ओर अब तक के चुनाव में जिले सबसे ज्यादा उम्मीदवार(जिले की सभी सीटों को मिलकर) 1993 के चुनाव में मैदान में थे.इस वर्ष 157 उम्मीदवारों ने अपनी किस्मत को आजमाया.वही 1990 में 150, 2013 में 89,2008 में 85,1985 में 84, 2003 में 70, 1998 में 69, 1980 में 48, 1977 में 41 1952 में 36 1962 में 34 1967 में 30 और 1957 में 18 लोग थें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here