आज पाकिस्तान को युद्ध में हराया था : टेंक रखा है महू में

0
263
चित्र - सभार दिनेश सोलंकी

 

 चित्र -  सभार दिनेश सोलंकी
चित्र – सभार दिनेश सोलंकी

 

लोकल इंदौर . भारत की पाकिस्तान पर इस ऐतिहासिक जीत  १६ दिसंबर १९७१ को  विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है।  पकिस्तान  पर यह जीत कई मायनों में ऐतिहासिक थी। भारत ने ९३ हजार पाकिस्तानी सैनिकों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था। इसी दिन  बंगलादेश बना था|

कई सालों के संघर्ष और  पकिस्तान की सेना के अत्याचार और   दमन के विरोध में पूर्वी पाकिस्तान के लोग सड़कों पर उतर आए थे। १९७१ में आज़ादी के आंदोलन को कुचलने के लिए पाकिस्तानी सेना ने पूर्वी पाकिस्तान के विद्रोह पर आमादा लोगों पर जमकर अत्याचार किए। लाखों लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया और अनगिनत महिलाओं की आबरू लूट ली गई।

 भारत ने पड़ोसी के नाते इस जुल्म का विरोध किया और क्रांतिकारियों की मदद की। इसका नतीजा यह हुआ कि भारत और पाकिस्तान के बीच सीधी जंग हुई। इस लड़ाई में भारत ने पाकिस्तान को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिए। इसके साथ ही दक्षिण एशिया में एक नए देश का उदय हुआ।

इस युद्ध से पहले भी १९६५ में भी भारत  ने पाकिस्तान को हराया था .महू में आज भी उस युद्ध में पकिस्तान  का टेंक रखा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here