इंदौर की सड़कों पर लोगो का आकर्षण बने है ये शख्श

0
174

            लोकल इंदौर विशेष १० अगस्त |    इं दौर की सड़कों पर इन दिनों एक शख्स हर किसी का ध्यान अपनी ओर खींच रहा है… सिर पर हेलमेट और सीने पर जैकेट पहने इस 75 वर्षीय बुजुर्ग का नाम है  हरनारायण जुनेजा| अपने दुपहिया वाहन पर जिंदगी बचाने का संदेश देते इन बुजुर्ग की ख्वाहीश है कि…अब सड़क पर कोई बेमौत न मरे |

इंदौर के साकेत नगर में रहने वाले जुनेजा की रानीपुरा में स्टेशनरी की दूकान है | देश के बंटवारे का दंश देख चुके इस बुजुर्ग जिद है कि जिंदगी की सांझ में युवाओं की जिंदगी की लौ जलती रहे और वे इसके लिए पहल कर रहे है | वे बताते है इंदौर में हर साल करीब 400 लोग सड़क हादसों में अपनी जान गंवा देते है इसमें ज्यादातर युवा है।जो रफ ड्राइविंग और तेज गति के कारन दुर्घटना के शिकार होते है |

देश के बंटवारे के पहले वे पाकिस्तान में रहते थे… बाद में उन्होंने भारत का रूख किया… दुनिया की सबसे दर्दनाक त्रासदी का गवाह रहे जुनेजा  अब चाहते है कि सड़क पर अब कोई बेमौत न मरे इसी लिए वे अपने तई युवाओं को जाग्रत करने के लिए प्रयास कर रहे |उनके ओसार वे पहले घर से दूकान जाते समय तेज गाड़ी चलाने के खिलाफ लोगो को समझाते थे |फिर उनके मित्र के बेटे के सहयोग से उन्होंने अपनी विशेह जैकेट बनवाई और उस पर स्लोगन लिखा होता है गति ने ली जान… जिंदगी अनमोल है।सर पर हेलमेट भी पहनना शुरू किया उस पर भी समझाईश | डेढ़ साल से सडक पर इसी वेशभूषा में लोगो को बढ़ते सड़क हादसों और रफ ड्राइविंग वजह से दुखी होकर इस अनूठा तरीके से लोगों को संदेश देने का काम कर रहे है |

युवाओं में जागरूकता लाने का काम कर रहे जुनेजा भी क्या ऐसे किसी हादसे का शिकार हुए है या उन्होंने भी किसी अपने को खोया है ? यह पूछे जाने पर वे कहते है ऐसा नहीं है मगर जो युवा शिकार होते है वे भी तो किसी ना किसी के अपने ही होते है|

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here