इंदौर महोत्सव १४ से रीजनल पार्क में

0
211

regnalलोकल इंदौर१३ फरवरी  . इंदौर टूरिज्म प्रमोशन काऊंसिल द्वारा इंदौर के पीपल्यापाला रीजनल पार्क में तीन दिनी इंदौर महोत्सव  का आयोजन १४ फरवरी से किया जा रहा है . इस दौरान  रीजनल पार्क में प्रवेश के लिए लिए जाने वाला शुल्क घटा कर १० रुपए कर दिया गया है . 16 फरवरी तक आयोजित होने वाले इस महोत्सव में फन एवं थ्रिल के साथ मालवी संस्कृति एवं परम्परा का अनूठा समावेश देखने को मिलेगा।

इंदौर टूरिज्म प्रमोशन काऊंसिल के सचिव  एम् एन .जमाली ने आज लोकल इंदौर को बताया कि महोत्सव के तहत दो स्थानों  रीजनल पार्क एवं चोरल डेम क्षेत्र पर कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। महोत्सव तीन दिनों तक साहसिक एवं रोमांचकारी गतिविधियों के साथ ही कवि सम्मेलन, संगीत संध्या, हस्तशिल्प मेले आदि का आनंद लिया जा सकेगा। महोत्सव में व्यंजन मेला भी प्रमुख आकर्षण होगा।उन्होंने बताया कि  इंदौर महोत्सव 11 बजे से पीपल्यापाला रीजनल पार्क में एवं प्रातः 8 बजे चोरल में प्रारंभ होगा। महोत्सव का विधिवत शुभारंभ 14 फरवरी को सायं 7 बजे प्रदेश के नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीय पीपल्यापाला रीजनल पार्क में करेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री सुरेन्द्र पटवा द्वारा की जायेगी। कार्यक्रम के विशेष अतिथि महापौर श्री कृष्णमुरारी मोघे, सांसद श्रीमती सुमित्रा महाजन तथा इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शंकर ललवानी होंगे।      श्री जमाली के अनुसार इंदौर महोत्सव के अंतर्गत व्यंजन मेले का भी आयोजन किया जा रहा है, जिनमें मालवा के प्रसिद्ध प्रतिष्ठानों द्वारा अपने स्टॉल लगाये जायेंगे। इन स्टॉलों के माध्यम से मालवा के प्रसिद्ध व्यंजनों के अलावा अन्य विविध प्रकार के व्यजनों का लुत्फ उठाया जा सकेगा। पीपल्यापाला रीजनल पार्क में किड्स जोन भी बनाया जाएगा जिसमें बच्चों के लिए कई प्रकार के झूले, राइड्स आदि होंगे। इसमें 5 डी गेम्स भी लगाए जाएंगे।

14 फरवरी को पलक मुछाल प्रस्तुत करेंगी संगीतमय कार्यकम

इंदौर महोत्सव का शुभारंभ 14 फरवरी को पीपल्यापाला रीजनल पार्क में होगा। महोत्सव की पहली संध्या को इंदौर की प्रसिद्ध पार्श्व गायिका पलक मुछाल अपनी सुरमयी प्रस्तुति देंगे। इंदौर में जन्मी पलक ने अपने गायन के साथ हृदय रोग से ग्रस्त बच्चों के निःशुल्क इलाज में सहयोग अनूठा कार्य किया है। पलक का नाम गिनीज बुक ऑफ वल्ड रिकार्ड में भी दर्ज है

15 फरवरी को हास्य कवि सम्मेलन

आयोजन के दूसरे दिन 15 फरवरी को सायंकाल हास्य कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया है। कवि सम्मेलन के अंतर्गत हास्य रस के कवि पद्मश्री श्री सुरेन्द्र शर्मा दिल्ली, हास्य एवं वीर रस के कवि श्री सत्यनारायण सत्तान इंदौर, प्रसिद्ध शायर श्री राहत इंदौरी इंदौर, श्रृंगार रस की कवियत्री लता हया मुम्बई, हास्य कवि श्री प्रदीप चौबे ग्वालियर, वीर रस के कवि श्री आशीष अनल लखनऊ, सूत्रधार हास्य कवि श्री संदीप शर्मा धार तथा कवि श्री दिनेश बावरा शामिल होंगे।

16 फरवरी को शाल्मली एवं लम्बाडा रॉक बैन्ड की प्रस्तुति

इंदौर महोत्सव के तीसरे और अंतिम दिन प्रख्यात पार्श्व गायिका शाल्मली संगीत की प्रस्तुति देंगी। उसी दिन मशहूर रॉक बैन्ड लम्बाडा रॉक बैण्ड पुणे की प्रस्तुती भी होगी।

निःशक्तजनों के लिये भी होंगे कार्यक्रम

महोत्सव के दौरान इंदौर जिले के निःशक्तजनों के लिये भी विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। निःशक्तजनों को साहसिक खेलों में भी सम्मिलित किया जायेगा। महोत्सव के दौरान 14 फरवरी को सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक रीजनल पार्क में स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किया जायेगा। इसी तरह 15 फरवरी को जिले के चयनित निःशक्तजनों को चोरल डेम में आयोजित साहसिक खेलों में सम्मिलित किया जायेगा।

निःशक्तजन भी करेंगे अपनी कला का प्रदर्शन

महोत्सव के अंतिम दिन 16 फरवरी को दोपहर 2 बजे से निःशक्तजनों की चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी। साथ ही शाम को 5 बजे चयनित निःशक्तजनों को कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरणों का वितरण किया जायेगा। शाम को साढ़े 6 बजे से निःशक्तजन रीजनल पार्क में अपनी प्रतिभाओं का प्रदर्शन कर आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here