इन्दौर में अन्तराष्ट्र्रीय फिल्म पायरेसी गिरोह का भण्डा फोड

0
254

anti-piracyलोकल इन्दौर 29 अप्रेल। इंदौर पुलिस ने आज अन्तराष्ट्र्रीय फिल्म पायरेसी गिरोह का भण्डा फोड किया है गिरोह इन्दौर के सिनेमाघरों में उच्च तकनिकी केकैमरे से शूट कर अन्तराष्ट्र्रीय बाजार में फिल्मों को ऑनलाईन एवं टीमव्यूवर के माध्यम से बेचते थे।गिरोह के तार म.प्र., गुजरात, दिल्ली, राजस्थान, लाहौर, करांची एवं सिंगापुर से भी जुडे है।

पुलिस उप महानिरीक्षक श्री राकेश गुप्ता ने बताया कि मोशन पिक्चर्स एशोसिएशन मुम्बई के लीगल आफिसर श्री सत्या बेनर्जी की ओर से शिकायत प्राप्त हुई थी कि, कुछ लोग इन्दौर के सिनेमाघरों में, प्रदर्शित हो रही नई हॉलीवुड व बॉलीवुड फिल्मों को कैमरो से शूट कर पायरेसी कर उसकी व्यापक पैमाने पर बिक्री कर रहे है।

इस संबध में सूचना मिलने पर पुलिस की टीम दबिश दिये जाने पर रूपेश पिता नर्मदाप्रसाद जायसवाल उम्र 28 साल निवासी फलैट नं. 202 श्रीधाम अपार्टमेन्ट,टेलीफोन नगर चौराहा, इन्दौर एवं टीनू शर्मा उर्फ महेन्द्र शर्मा 25 साल नि0 42 रघुवंशी कालोनी मरीमाता चौराहा इन्दौर को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर टीम को काफी सारी चौकाने वाली बात सामने आई।
आरोपियों से प्रारंभिक पूछताछके दौरान रूपेश जायसवाल ने बताया कि, वह पूर्व में डीवीडी का मास्टर प्राप्त कर डीवीडी कॉपीयर से कॉपी कर रैपर के साथ स्थानीय बाजार में एवं आसपास के क्षेत्रों में बेचने का काम करता था बाद में तकनीकी सपोर्ट के लिए टीनू उर्फ महेन्द्र से सम्पर्क होने पर 5000रूपए प्र.मा. की नौकरी पर उसको रख लिया था। कुछ दिनों बाद रूपेश एवं टीनू उर्फ महेन्द्र द्वारा ऑनलाईन शॉपिंग के माध्यम से सोनी कम्पनी का 8 जीबी एच.डी.कैमरा क्रय किया गया जिसके माध्यम से इन्दौर के सत्यम सिनेप्लेक्स के स्कॉय लाउंज सेक्शन में प्रथम शो में बैठकर उससे स्क्रीन रिकार्ड करने लगे तथा उसको कम्प्यूटर में डाउनलोड कर सॉफ्टवेयर्स के माध्यम से पिक्चर क्वालिटि सुधार कर उसका मास्टर बनाने एवं उसे बेचने का काम चालू किया गया। टीनू द्वारा कम्पयूटर तकनीक का अच्छा ज्ञान होने से उसके द्वारा यूरोपीयन ओ.वी.एच. कम्पनी से 1000जीबी का क्लाउड सर्वर स्पेस किराये पर लिया जाकर पिक्चरों की रिलीज को विनआर सॉफटवेयर के माध्यम से कम्प्रेस कर अपलोड किया जाता था एवं अपने ग्राहकों से नेट के माध्यम से चेटिंग के दौरान डील तय होने एवं उनके द्वारा ऑनलाईन फण्ड ट्र्रांसफर किये जाने पर टीमव्यूवर के माध्यम से उनकों कनेक्ट कर, उनके कम्प्यूटर पर अपने यमराज नाम के सर्वर से डाउनलोड करता था।
आरोपियों द्वारा हाल ही में रिलीज हुई फिल्मों जैसे आयरन मैन-3, आशिकी-2, एक थी डायन, के अतिरिक्त स्पाईडर मेन, बोल बच्चन, डार्क नाईट राइजेस, जन्नत-2, जीआयजो, डाय हार्ड, जेम्स बॉण्ड की स्कॉय फॉल आदि फिल्मों की भी शूट की गई कॉपी तैयार की गई व इन्टरनेट व मोबाईल के माध्यम से ग्राहकों से सम्पर्क कर 25,000-00 रू से लेकर 3 लाख रू. तक की कीमत में सौदा तय कर सप्लाय की गई।

टीम द्वारा डेस्कटाप सिस्टम एक्सआन प्रोसेसर, 8 कोर, 12 जीबी रेम, 500 जीबी एचडी, ग्राफिक कार्ड 1 जीबी, 3 रिकार्डिग डिवाइस एचडी (सैमसंग, कोडक एवं सोनी), खाली डीवीडीज-200 कापीयर 1-10 डीवीडी, स्केनर, साफ्‌्‌टवेयर कन्वर्टर,एक्सर्टनल डीवीडी रायटर जो कि कीमत लगभग 53000 रू0 को जप्त किया गया।
जिला अपराध शाखा द्वारा की गई पूछताछ मे आरोपियों के तार मध्यप्रदेश के अन्य शहरों जैसे भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर के अतिरिक्त गुजरात, राजस्थान, नई दिल्ली के अतिरिक्त लाहौर, करांची पाकिस्तान एवं सिंगापुर के पायरेसी वर्ल्ड के लोगो से जुडे होना पाये गये है।
आरोपियों में एक रूपेशजायसवाल मूल रूप से बागली जिला देवास का निवासी होकर 8 वी फेल होकर विगत कुछ समय से बंगाली चौराहे पर श्रीधाम अपार्टमेन्ट मे निवास करता है तथा दूसरा आरोपी टीनू उर्फ महेन्द्र शर्मा उम्र 25 साल निवासी रघुवंशी कालोनी इन्दौर 12 तक अंग्रेजी माध्यम स्कूल में शिक्षित होकर कम्प्यूटर का अच्छा तकनीकी ज्ञान रखता है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here