कैलाश विजयवर्गीय ने पहले सरकार को घेरा,फिर वापस लिया ट्वीट

1
665

लोकल इंदौर।  बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने शनिवार को अपने एक ट्वीट से शिवराज सरकार पर निशाना लगा दिया  मेट्रो की लेट लतीफी को किये गए ट्वीट से जब राजनीतिक  भूचाल आया , तो विजयवर्गीय ने ट्वीट वापस लिया। कुछ देर बाद किये इसी ट्वीट में उन्होंने सरकार के बजाये अधिकारियो पर निशाना लगा दिया। इससे पहले पूर्व गृह मंत्री बाबूलाल गौर भी मेट्रो को लेकर अपनी सरकार को घेर चुके है।

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

1 COMMENT

  1. अगर वाकई में मध्य प्रदेश में एग्जिट पोल को देखते हुवे अब यही पाया गया है की जनता की कई परेशानी रहती है अभी नहीं है जनता को अपने शहर वाला विधायक की ही जरुरत है कोई भी कार्य करने पड़ने पर अपने शहर से अन्य जगह जाना सभव नहीं है और जनता की अन्य कई समस्या जैसे अभी इंदौर महू के बीच नौकरी पेशा लोग जो की लखभाग १० से १५ हजार डेली आना जाना करते है रात्रि में वापस इंदौर से महू आने के लिए शाम के ६ बजे बाद कोई भी ट्रैन उपलब्ध नहीं है अगर है भी तो रात्रि में १० बजे एवं १०.१० बजे ०२ ट्रैन है जो एक ही समय में ०२ है जिसका कोई भी जरुरत नहीं है जरुरत तो रात्रि में ७.३० से ८ बजे के बीच है जब की अधिकांश महिला कर्मचारी और अन्य लोग इसी समय महू के लिए वापस जाते है मजबूरन में प्राइवेट उपनगरीय बस में अपमानित और धक्के खाकर यात्रा करते है इसी प्रकार महू के लोगो के लिए जो इंदौर महू के बीच ऑय बस चलती थी वह ४ से कम कर मात्रा ०१ कर दी गयी इसी प्रकार सूत्र सेवा सिटी बस जो की हमारे आदरणीय प्रधानमंत्रीजी इंदौर में शुरू करके गए रहे जिसमे इंदौर महू के बीच ०५ बसे चलनी थी वह भी बंद कर दी गयी ऑय बस और सिटी बस में महिलाओ काफी सुरक्षित मानी जाती है जिसमे अलग स्थान होता है फिर निजी उपनगरीय बसों में अपमान इंदौर महू की जनता किस के पास जावे रेलवे सुनता नहीं ऑय बस और सिटी बस में भी कोई भी सुनवाई नहीं तो कोई भी हो नुकसान तो उठाना हे होगारेलवे के ज्ञापन दे दे कर थक गए है सुनने के लिए तैयार नहीं इसके पहिले भी तो मीटर गेज लाइन पर भी तो तमाम महू से ट्रैन चलती थी और प्रत्येक घंटे में आने जाने के लिए ट्रैन थी अभी महू में मीटर गेज लाइन प्लेटफॉर्म नंबर १ पर जो कार्य चल रहा है उसकी अभी कोई भी जरुरत नहीं है वह तो नया ब्रॉड गेज प्लेटफॉर्म नया बनाना है फिर राशि के बर्बादी क्यों की जा रही है रेलवे को महू से अन्य ट्रैन चलाने के तुरंत जरुरत है खासकर डेली इंदौर महू आने जाने के लिए काफी यात्रियो में गुस्सा है और सरकार को कोस रहे है रेलवे के अधिकारी जिद पर अड़े है हम नहीं चलाएगे

    sunil kumar jain

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here