दोस्तों का जनाजा देख भर आई आंखे

0
203

लोकल इंदौर 8 जुलाई। रमजान के ठीक पहले दो घरों के इकलौते चिराग के बुझ जाने से पूरे कोहिनूर कालोनी और मदिना नगर में मातम छाया हुआ है। सड़क हादसे में मौत के ग्रास बने दोनों दोस्तों का जनाजा जब उनके घरों से एक साथ निकला तो हर किसी की आंखे नम रह गई। यही नहीं सडक के दोनों ओर लोगों की भारी भीड़ जनाजे की एक झलक पाने के लिए आतुर थी।
मृतक दोनों ही दोस्त राजनीति में ऊचाईयां छूने की चाहत रखते थे।अमान और रहमान अमीर और गरीब परिवार के बच्चे थे मगर इनमें कभी कोई फर्क अमीरी और गरीबी का नही दिखता था। दोनों भाईयों की तरह रहते थे और अमान के पिता की तरह राजनीति में बड़ी शख्सियत बनने की चाह रखते थे। अमान ने पन्द्रह साल की उम्र में राजनेता बनने के गुर दिखाने शुरू कर दिया था और रहमान भी उसी के नक्षे कदमों पर चल रहा था

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता कादिर पठान के इकलोता चिराग अमान पठान को जन्म दिन पर उसे पिता ने नई बाइक दिलाई थी और परिजनों ने बाहर जाकर जन्मदिन मनाने से मना कर दिया तो अपने दोस्तों के साथ रिजनल पार्क चले गए। अमान और उसका दोस्त रहमान अपने घर के इकलौते बेटे थे जो सडत्रक हादसे में मौत का ग्रास बने। जबकि इनका एक मित्र अरषद जिन्दगी और मौत से जूझ रहा है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here