दोस्त की हत्या के लिए दिए थे 15 लाख

0
295

लोकल इन्दौर 09 सितंबर।पचास लाख रूपयों के लेनदेन को लेकर ही दोस्त ने ही  15 लाख की सुपारी देकर अपने दोस्त की हत्या करने का षडयन्त्र किया था ।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध शाखा श्री मनोज कुमार राय ने बताया कि, दिनांक 28 अगस्त 2012 को सुयश अस्पताल परिसर में व्यापारी धर्मेन्द्र सिंह ठाकुर निवासी रतलाम कोठी इन्दौर को, 15 लाख की सुपारी देकर, गोली मरवाने वाले मास्टर माइंड मनीष जुनेजा निवासी गुलमोहर एक्सटेंशन इन्दौर एवं घटना के षडयंत्र में शामिल अन्य 5 आरोपियों को गिरफतार करने में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त की है।  प्रकरण के बाबत सूचना देने के लिए फरियादी द्वारा 51 हजार के ईनाम की घोषणा की जाकर जनसहयोग भी चाहा गया था।

श्री राय ने बताया कि प्रकरण में तकनीकी विश्लेषण से मनीष जुनेजा पिता देशबन्धु जुनेजा निवासी गुलमोहर एक्सटेंशन एवं विक्की उर्फ विक्रम मालवीय की भूमिका संदिग्ध पाई गई।  धर्मेन्द्र सिंह एवं मन्नु उर्फ मनीष के बीच 50 लाख रूपयों का लेनदेन था जिसकी वापसी के लिए धर्मेन्द्र सिंह द्वारा 1 सितम्बर 2012 की समय सीमा नियत की गई थी। रूपयो की वापसी तय समय सीमा में न होने एवं धर्मेन्द्र द्वारा अपशब्द कहे जाने के डर से मनीष जुनेजा निवासी गुहमोहर कालोनी इन्दौर द्वारा 15 लाख की सुपारी देकर उसे रास्ते से हटाने का षडयंत्र तैयार किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here