प्रवीण खारीवाल की नियुक्ति अवैध

0
369

Praveen Khariwal newलोकल इंदौर 8 अगस्त|इंदौर प्रेस क्लब के अध्यक्ष प्रवीण कुमार खारीवाल की नियुक्ति अवैध है। यह आरोप एमपी वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष राधावल्लभ शारदा ने लगाया है। उन्होंने कहा एमपी वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन स्वतंत्र संगठन है। इसका किसी भी यूनियन, राष्ट्रीय संगठन अथवा महासंघ से कोई लेना देना नहीं है। न ही किसी प्रकार का संबंद्धता है। एमपी वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन ट्रेड यूनियन एक्ट के तहत पंजीक्रत  यूनियन है। वहीं यूनियन का भी विधान और नियमानुसार यूनियन के पदाधिकारियों के चुनाव तीन वर्ष के लिए होते हैं। प्रांतीय महासचिव की नियुक्ति अध्यक्ष द्वारा की जाती है। इस हिसाब से इंदौर के वरिष्ठ पत्रकार प्रवीण खारीवाल की अध्यक्ष पद पर नियुक्ति वैधानिक रूप से सही नहीं है। यह नियुक्ति बीते दिनों नेशनल फेडरेशन आफ वार्किंग जर्नलिस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष विक्रम राव द्वारा होना बताई गई। राधावल्लभ शारदा ने बताया, राष्ट्रीय फेडरेशन वर्तमान ट्रेड यूनियन नियमों के अनुसार कम से कम 11 (ग्यारह) राज्यों के यूनियन को मिलाकर बनता है। इस फेडरेशन के पदाधिकारियों द्वारा चुनाव होता है। फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष को प्रांतीय यूनियन में अध्यक्ष अथवा अन्य पदाधिकारी की नियुक्ति का कोई अधिकार ही नहीं होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here