प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन पर इनकम टेक्स विभाग की नजर

0
419

लोकल इंदौर१० जुलाई ,(विशेष प्रतिनिधि)। देश के कई प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन विभागों पर इनकम टैक्स विभाग की पैनी नजर है।इनमे इंदौर भी शामिल है

एक्सक्लूसिव जानकारी जो लोकल इंदौर को मिली है उसके   मुताबिक  प्रदेश सहित हरियाणा, यूपी, झारखंड समेत की राज्यों में प्रॉपर्टी रजिस्ट्री के लिए कैश स्टांप खरीदे गए हैं। जिसको देखते हुए राज्यों के प्रॉपर्टीरजिस्ट्रेशन विभागों पर आईटी की नजर है। स्टांप खरीद में कैश के लेनदेन के खुलासे से पता चला है कि 2 लाख की तय लिमिट से ज्यादा की खरीदारी कैशमें की गई है। इस बारे में ट्रेजरी और स्टांप वेन्डरों ने जानकारी छिपाई है। हरियाणा, यूपी, एमपी और झारखंड में इस तरह के दर्जनों मामले सामने आए हैं। इस पर राज्यों से हर महीने जानकारी भेजने को कहा गया है। गौरतलब हैकि आयकर विभाग के सेक्शन 269 एसटी के मुताबिक 2 लाख से ज्यादा के कैश में लेनदेन अवैध है। 2016-17 के बजट में ख़ास तौर से सेक्शन 269एसटी को इन्ट्रोड्यूस किया गया था जिसपर आयकर विभाग ने पहली अप्रैल 2017 सेनोटिफिकेशन जारी किया था। इस सेक्शन के मुताबिक 2 लाख रुपये के ऊपर जितने की भी कैश लेनदेन की जाती है उतना ही पेनाल्टी लगाया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here