फर्जी सरकारी नोकरी के नाम पर ठगी करने वाला पकडाया

0
178

लोकल इंदौर 13 जून।सरकारी नौकरी व भारत सरकार के अंतर्गत कम्पनियों में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखो रूपयो की ठगी कर उन्हें फर्जी नियक्ति देने वाले आरोपी को पुलिस ने इंदौर से गिरफ्तार किया है।

पुलिस में इंदौर निवासी आवेदक कान्हा पिता राधेश्याम गोयल ने शिकायती आवेदन पत्र के माध्यम से शिकायत की गई थी कि योगेश पिता रामकृष्ण मिश्रा उम्र-26 वर्ष निवासी-पालदा, इन्दौर द्वारा द्वारा ,आवेदक कान्हा को कोल इण्डिया भारत सरकार कोलकाता में साईट इंजीनियर के पद पर नौकरी लगवाने का प्रलोभन दिया ।जिसके तारतम्य में नौकरी लगवाने के एवज में आवेदक कान्हा से योगेश नामक व्यक्ति ने छलकपट करते हुये विभिन्न ट्रांजेक्शन के माध्यम से आई.डी.एफ.सी. बैंक के निजी खातों में 90,000/- रूपये जमा करा लिये । आवेदक कान्हा के परिजनों से कुल 3,70,000/- रूपये नगद प्राप्त कर योगेश मिश्रा नामक व्यक्ति द्वारा आवेदक के साथ कुल 4,60,000/- रूपये की धोखाधड़ी की गई है। इतना ही नहीं कूट रचित  दस्तावेज तैयार कर आवेदक को कोल इण्डिया भारत सरकार कोलकाता में साईट इंजीनियर के पद पर नौकरी वास्ते फर्जी नियुक्ति पत्र भी दे दिया था।

आवेदन की जांच के बाद पुलिस ने योगेश मिश्रा और उसके साथी दीपक पिता कमलसिंह राजपूत (24) निवासी पिपलिया जिला राजगढ़ को गिरफ्तार किया। पूछताछ में आरोपी योगेश ने बताया कि वह बीएससी तक पढ़ा है और सतना का रहने वाला है। आरोपी पहले इंदौर में ट्रेड सॉलूशन एडवाईजरी कंपनी में नौकरी करता था बाद में स्वयं नौकरी लगवाने के नाम से लोगों से रुपए ऐंठकर धोखाधडी करने लगा।

आरोपी दीपक ने पुलिस को बताया कि वह पहले स्वास्तिक इंवेस्टमेंट मार्ट में काम करता था और बाद में योगेश के साथ मिलकर नौकरी के नाम पर लोगों को ठगने लगा। दोनों आरोपियों ने और भी कई लोगों के साथ नौकरी के नाम पर लाखों रुपए की ठगी को अंजाम दिया है जिसकी जांच की जा रही है।

 

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here