बर्खास्त होना हो तो लो रिश्वत

0
188

इंदौर१८ अप्रैल ।भले ही रिश्वत और पुलिस का चौली दामन का साथ रहा हो लेकिन जीआरपी ने एक अभूतपूर्व कदम उठाते हुए रिश्वत और अवैध वसुली करने वाले पुलिसकर्मियों को सीधे सेवा से बर्खास्त करने का निर्णय लिया है।
जानकारी के मुताबिक यात्रियों द्वारा लगातार की जा रहीं शिकायतों के बाद पुलिस की छवि बेहतर बनाने और यात्रियों को एक सुरक्षित माहौल देने के लिए ये निर्णय लिया गया है। मुसाफिरों से चौथ वसूली के पुख्ता सबूत मिलते ही सम्बन्धित पुलिसकर्मी की सीधे बर्खास्तगी होगी।
एक अधिकारी ने बताया कि अधिकांशत यात्री शिकायत करते है कि कभी ज्यादा सामान के नाम पर तो किसी नाम पर जीआरपी के जवान उनसे वसुली कर लेते है।उन्होनें बताया कि विभाग में भष्ट्राचार कितना बढ गया है। इस बात का अंदेशा इसी बात से लगाया जा सकता है कि रेल पुलिस ने जनवरी से लेकर १५ अप्रैल २०१२ तक दो दर्जन से अधिक पुलिसकर्मियों को निलंबित कर उनके खिलाफ विभागीय जांच के निर्देश दिए हैं।उनके अनुसार नया आदेश के प्रभाव में आने से यात्रियों को एक बडी राहत मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here