बेटे की मौत से दुखी एक माँ ने लगाई फाँसी

0
464

fansiलोकल इंदौर 19 अप्रेल।इन्दौर में बेटे की मौत से दुखी एक माँ ने गुरुवार रात फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। डेढ वर्ष पहले उसके बेटे ने माँ की मर्जी के खिलाफ प्रेम विवाह किया था। शादी के कुछ समय बाद बेटे ने आत्महत्या कर ली। जबकि माँ का कहना है कि उसके बेटे की हत्या उसकी बहू ने कराई है।

बाणगंगा पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गणेशधाम कॉलोनी में रहने वाली 55 वर्षीय रेशमबाई पति रामचन्द्र ने गुरुवार रात को घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस घटना की जानकारी शुक्रवार सुबह मिली। मौके से पुलिस को एक सुसाइट नोट मिला है। जो टुटी फूटी भाषा में है। बताया जाता है कि मृतका अनपढ थी। उसने किसी बच्चे से यह पत्र लिखवाया है।। पुलिस के प्रारम्भिक जांच में यह बात सामने आई है कि मृतका के पति की मौत पहले ही हो चुकी है। उसका एक बेटा धर्मेन्द्र था। उसने माँ की मर्जी के खिलाफ एकता नामक लडकी से प्रेम विवाह कर लिया था। प्रेम विवाह के बाद ही बेटा अपनी प्रेमिका के साथ जबलपुर रहने चला गया। कुछ दिनों बाद बेटे ने भी आत्महत्या कर ली। उस वक्त माँ ने जबलपुर पुलिस को शंका जाहिर की थी कि एकता ने अपने पुरुष मित्र के साथ मिलाकर उसकी बेटे की हत्या करवाई है।जांच के बाद जबलपुर पुलिस ने एकता के खिलाफ धर्मेन्द्र को आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का दोषी पाते हुए मामला दर्ज किया था। उधर अपने बेटे की मौत के बाद से ही उसकी माँ न्याय के लिए परेशान थी। अंततः हताश होकर उसने भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।फांसी लगाने से पहले मृतका ने अपने सीने के पास सादी में एक पिन के माध्यम से बेटे की फोटो और सुसाइट नोट लगा रखा था। पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here