मध्यप्रदेश ई अपशिष्ट उत्पन्न करने वाले राज्यों में नौवे स्थान पर

0
223

इंदौर 9 मई ।भारत में होने वाले ई अपशिष्ट का ७० प्रतिशत देश के १० राज्यों में उत्पन्न होता है जिसमें महाराष्ट्र पहले स्थान पर है जबकि मध्यप्रदेश ई अपशिष्ट उत्पन्न करने वाले राज्यों में नौवे स्थान पर है।

महाराष्ट्र के बाद ईअपशिष्ट तमिलनाडु, आन्ध्रप्रदेश, उत्तरप्रदेश, पश्चिम बंगाल, दिल्ली, कर्नाटक, गुजरात, मपयप्रदेश और  पंजाब में उत्पन्न होता है। सर्वाधिक अपशिष्टउत्पन्न करने वाले शहरों में दिल्ली पहले स्थान पर है। इसके बाद बैंगलोर, चेन्नई, कोलकाता,  अहमदाबाद, हैदराबाद, पुणे, सूरत और  नागपुर हैं। केन्द्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्रालय ने ई अपशिष्ट प्रबंधन एवं निपटान नियम २०११  अधिसूचित कर दिया है तथा यह नियम १ मई २०१२ से लागू हो गया है

ये नियम सूचना प्रौद्योगिकी एवं दूरसंचार उपकरणों और उपभोक्ता इ लक्ट्रिक एवं इलैक्टोनिक्स  अर्थात टेलीविजन सेटों (एलसीडी एवं एलईडी सहित), रेफ्रिजरेटरों, वाशिंग मशीनों एवं एयरकंडीशनरों से उत्पन्न ई अपशिष्ट पर लागू होंगे। ये नियम संबंधित राज्य एजेंसी को ई अपशिष्ट प्रबंधन से जुड़ी संबंद्घ गतिविधियों जैसे कि संग्रहण, पृथक्कीकरण, विघटन एवं पुनः चक्रीयन का नियंत्रण, पर्यवेक्षण एवं विनियमन शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here