विधायक पारस सकलेचा का चुनाव निरस्त

0
243

courtलोकल इंदौर 12 अप्रेल। मध्यप्रदेश उच्चन्यायलय की इंदौर पीठ ने शुक्रवार को रतलाम विधानसभा सीट से भाजपा के विधायक पद के प्रत्याशी रहे हिम्मत कोठारी की शिकायत याचिका पर चुनाव में कोठारी के भ्रष्टाचार में लिप्त होने की असत्य बात फैलाने वाले विधायक पारस सकलेचा के चुनाव को निरस्त कर दिया है।
इंदौर हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति रुपचन्द गर्ग ने मामले में एवीडेंस रिकार्ड कर इलेक्शन कमीशन की मीटिंग के वीडियो देख शुक्रवार को यह फैसला सुनाया कि पारस सकलेचा ने अपने चुनाव प्रचार के दौरान असत्य रुप से हिम्मत कोठारी के खिलाफ आरोप लगाए थे, जिससे उनका चुनाव प्रभावित हुआ था अत: अदालत ने पारस सकलेचा के चुनाव को निरस्त करने के साथ ही उन पर 20 हजार का जुर्माना लगाया।हिम्मत कोठारी का आरोप था कि रतलाम विधानसभा सीट के चुनाव के दौरान निर्दलीय प्रत्याशी रहे पारस सकलेचा ने उनके खिलाफ मंत्री पद पर रहने के दौरान पुलिस की बंदूके खरीदने, डंडे खरीदने और मुंबई व बैंगलोर में अचल संपत्ति अवैध संसाधनो से अर्जित करने जैसे आरोप लगाए थे जिसके कारण चुनाव काफी प्रभावित हुआ था और वह हार गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here