हर चुनाव में डाला है इन्होने वोट

0
196

लोकल इन्दौर 19 अप्रैल। स्वतंत्र भारत में सन् 1952 में सम्पन्न हुये प्रथम आम चुनाव के समय 23 वर्षीय प्रो. माधव परांजपे ने अपने मताधिकार का उपयोग किया था। उसके बाद से वे प्रत्येक चुनाव में अपने मताधिकार का उपयोग करते आये हैं । श्री सत्यसांईं विद्या विहार के निदशक 85 वर्षीय प्रो. परांजपे ने आज विद्यालय में एन.सी.सी. और क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय (डी.एफ.पी.) व्दारा आयोजित मतदाता जागरूकता कार्यक्रम में कहा कि मतदान करना हमारा अधिकार ही नही, कर्तव्य भी है। प्रत्येक मतदाता को मतदान अवश्य करना चाहिये। प्रो. परांजपे ने बताया कि सन् 1952 में हुये पहले आम चुनाव के समय वे असम के डिब्रूगढ़ महाविद्यालय में प्रोफ़ेसर थे तथा उन्हें तीनसुखिया और नौगाँव निर्वाचन क्षेत्रों में पीठासीन अधिकारी बनाया गया था। प्रो. परांजपे ने मतदाता शपथ पत्र पर हस्ताक्षर करने के बाद कहा कि प्रजातंत्र की मजबूती के लिये शत-प्रतिशत मतदान होना चाहिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here