१९ साल तक युवा खा सकते है ये “मीठी गोली”

0
457

लोकल इंदौर 09 फरवरी. राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के मौके पर आज क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय और नेहरू युवा केंद्र के सन्युक्त तत्वावधान मेंबसीपीपरी, बोरिया और सिमरोल की आंगवाड़ियों में आयोजित कार्यक्रमों मेंबच्चों को कृमि की गोली खिलाई गई. इन कार्यक्रमों में बताया गया कि कृमियानि पटार के संक्रमण से बच्चों का शारीरिक और बौद्धिक विकास नहीं होताहै. यदि बच्चा कृमि से संक्रमित होगा तो वह स्कूल नहीं जा पायेगा. कृमिनाशक मीठी गोली के सेवन से कृमि की रोकथाम सम्भव है इसलिये एक से 19 वर्षतक की आयु के बच्चों को कृमिनाशक गोली जरूर खिलानी चाहिये. सहायक निदेशकमधुकर पवार ने बताया कि जिन बच्चों को किसी कारण से कृमि नाशक गोली कासेवन नहीं कराया जा सका है तो उन्हें आगामी 15 फरवरी तक माप-अप-दिवस केतहत कृमि नाशक गोली का सेवन करवा सकते है. उक्त गांवों में आयोजितकार्यक्रमों में विनोद ठाकुर, मोनिका पवार, अरूण मकवाना, राहुल मकवाना,योगेश मालवीय और अरूण भार्गव की महत्वपूर्ण भागीदारी रही.

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here