1300 करोड रूप्ए से विस्तारित होगा कृभकों का प्लांट

0
232

लोकल इंदौर 9 अगस्त …….कृषक भारती कोआपरेटिव लिमिटेड अपने हजीरा स्थित प्लांट को 1300 करोड रूपयों से विस्तारित करने जा रहा हैं जिससे यूरिया की उत्पादन क्षमता 18 लाख टन से बढ कर 22.23 लाख टन की हो जाएगी।

यह जानकारी आज कृभको दिल्ली के विपणन निदेषक एन संबाषिवराव ने इंदौर में पत्रकारों को देते हुए बताया कि कृभको देश के पूर्वी तट क्षे़त्र में 1200 करोड रूप्यों का नया प्लांट स्थापित करने जा रहा है। उन्होनें कहा कि देश में कुल युरिया की खपत का 17 फीसदी उत्पादन कृभकों के द्वारा किया जाता हैं।उन्होनें स्वीकार किया कि डीएपी ………….ड्राय अमोनिया फास्ट्रेट….. की कीमतें बढने और खपत में कमी होनें से देश  में यूरिया की मांग बढ गई हैं।

आज देश  में कृभकों की सहकारी समितियों की संख्या आठ हजार से अधिक है।कृभकों प्रमाणित बीज जेविक खाद और बीटी काटन की मार्केटिंग का काम भी करता हैं।आज देश  में यूरिया की 30 मिलियन तक मांग है जबकि उत्पादन 22 मिलियन टन ही होता हैं।एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होनें बताया कि मालवा खासकर निमाण क्षेत्र में किसानों ने कपास की जगह सोयाबीन की फसल लेना प्रांरभ कर दिया हैं इससे भी यूरीया की मांग बढ गई हैं।मध्यप्रदेष में अभी तक 18 लाख टन यूरिया की मांग सामने आई हैं। उन्होनें ये भी स्वीकार किया की यूरिया के दामों में वृद्वि हुई हैं 950 रूप्ए में बिकने वाला 1250 रूप्यों में बिक रहा हैं। उनके अनुसार यूरिया का उत्पादन बढ रहा है। जबकि इसके निर्माण में लगने वाली कच्ची सामग्री के दामों में भी वृद्वि हो रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here