इंदौर में बिकने आई 70 हजार की साड़ी ……

0
980
लोकल इंदौर 19 फरवरी।इंदौर के बास्केटबॉल कॉम्प्लेक्स, रेसकोर्स रोड  इंदौर में चल रही सिल्क इंडिया एग्जिबिशन में 70 हजार रूपये  कीमत वाली रियल ज़री कांजीवरम  साड़ी बिकने के लिए आई है जो लोगों को आकर्षित कर रही है   .
यह साडी तमिलनाडु के कारीगर क़ादर लेकर आये हैं। वे बताते है कि इस तरह की एक साड़ी को दो कारीगर मिलकर ६ महीने में  बना पाते हैं।   वे मिलकर एक  दिन  में आधा मीटर की वीविंग कर पाते हैं ।
 इस एग्जिबिशन में  वैवाहिक कलेक्शन प्रदर्शित किया जा रहा है।बनारस के बुनकर सलाम वसीम स्पेशल जुम्मन जंगला वाले की जंगला साड़ी लेकर आए हैं।डिब्रूगढ़ असम से आए हुए बुनकर विक्रम के पास घींचा वीविंग, कोरा वीविंग, टसर वर्क, कतान वर्क की गई साड़ियों का आकर्षक कलेक्शन है। इसके अलावा इनके पास कोसा टसर पर क्रॉस स्टिच की गई साड़ी खास है।
बनारस से आये  इकराम मूगा सिल्क, कतान सिल्क, खड्डी जॉर्जेट, टसर सिल्क के साथ खास तनचोई जामावार साड़ी लेकर आये है जिसकी कीमत 35000 रुपये है।  यह साड़ी आठ लेयर में बनी गयी पटोला पैटर्न की साडी है।  इस साड़ी की विशेषता यह है की धागे आगे पीछे एक सामान बुने  होते हैं।
इसके साथ ही यहां पर कश्मीर से बुनकर मोहम्मद अनीस पश्मीना साड़ी  लेकर आए हैं लिए भी कई हैंडलूम की बनी हुयी ख़ास पश्मीना शाल , कानी शाल लेकर आए हैं । लखनऊ की चिकनकारी कुर्तियां, बगरू प्रिंट की जयपुरी कुर्तियां, गुजरती घाघरा चोली, लहंगा आदि  विवाह समारोहों के लिए परफेक्ट च्वॉइस हो सकते हैं ।यह एग्जिबीशन 23 फरवरी तक चलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here