देवउठनी एकादशी, जानिए शुभ मुहूर्त और विशेष उपाय !

देवउठनी एकादशी 1 हजार अश्वमेघ यज्ञ का फल देने वाली

0
320

दिवाली के 11 दिन बाद मनाया जाने वाला पर्व देव प्रबोधिनी/देवउठनी एकादशी इस साल आज रविवार, 14 नवंबर 2021 को मनाया जाने वाला है। आप सभी को बता दें कि इसी दिन श्रीहरि विष्णु निद्रा से जागते हैं। वहीं धार्मिक ग्रंथों के अनुसार यह एकादशी सबसे महत्वपूर्ण है। आप सभी को बता दें कि कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवउठनी एकादशी, देवोत्थान एकादशी, देवउठनी ग्यारस, प्रबोधिनी एकादशी आदि नामों से भी पुकारा जाता है।

देवउठनी एकादशी इसलिए भी खास होती है क्योंकि इस दिन भगवान श्री विष्णु का शयन काल समाप्त हो जाता है और शुभ तथा मांगलिक कार्य होने आरम्भ हो जाते हैं। आप सभी को बता दें कि इस दिन जो व्रत रखना है उन्हें यह व्रत पापों से मुक्ति दिला देता है और उनकी सभी मनोकामनाओं को पूर्ण कर देता है। आपको यह भी बता दें कि इसी दिन से मांगलिक विवाह, गृह प्रवेश, मुंडन आदि जैसे शुभ कार्य पुन: आरम्भ हो जाते हैं। अब हम आपको बताते हैं देवउठनी एकादशी पर किस शुभ मुहूर्त में आप कर सकते हैं विष्णु जी का पूजन.

देवउठनी एकादशी एवं तुलसी विवाह के शुभ मुहूर्त

देवउठनी एकादशी तिथि का प्रारंभ- 14 नवंबर 2021 को सुबह 05.48 मिनट से होगा और सोमवार, 15 नवंबर 2021 को सुबह 06.39 मिनट पर एकादशी तिथि का समापन होगा। ठीक इसी दिन भगवान शालिग्राम और तुलसी जी का विवाह भी होगा।

राहु काल का समय- रविवार को सायं 4:30 से 6:00 बजे तक।

पारण का समय- 15 नवंबर को, पारण का समय- 01:10 पीएम से 03:19 पीएम रहेगा। इस दिन 01:00 पीएम पर हरि वासर (यानी द्वादशी तिथि की पहली एक चौथाई अवधि) समाप्त

“शो मैन” राज कपूर के साथ फ़िल्म करने से “ट्रेजडी किंग” दिलीप कुमार का इंकार!

अगर आपके पास धन का अभाव है और आप गरीबी में जीवनयापन करते हैं तथा आप धन कमाने के लिए कठिन परिश्रम भी करते हैं तो आप देव दीपावली के दिन भगवान कुबेर के नाम का एक दीपक जला सकते हैं। यदि आप इस दिन ऐसा करते हैं तो आपको न केवल धन की प्राप्ति होगी। बल्कि अगर आपका कहीं पर धन फंसा हुआ है तो आप वह भी प्राप्त कर सकते हैं।

रोग निवारण के लिए

अगर आप या आपके परिवार को कोई व्यक्ति काफी समय से बीमार हैं और वह बीमारी ठीक नहीं हो रही तो आप देव दीपावली के दिन भगवान सूर्य की मूर्ति अथवा सूर्य यंत्र स्थापित करके उसके पास दीपक जलाएं। ऐसा करने से आपका वह रोग जल्दी ठीक हो जाएगा और आपको उत्तम स्वास्थ्य भी प्राप्त हो जाएगा।

बिजनेस में उन्नति के लिए

अगर आप कोई कारोबार-बिजनेस आदि करते हैं और आपको उसमें हानि अधिक हो रही है तथा आप अपने कारोबार से उत्तम धन लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आप देव दीपावली के दिन गणेश जी की प्रतिमा के पास दीपक जलाएं। ऐसा करने से न केवल आपके व्यापार में वृद्धि होगी। बल्कि आपके व्यापार का विस्तार भी होगा।

दुर्घटना से मुक्ति के लिए

अगर आपके साथ दुर्घटना अधिक होती हैं या आपको शत्रुओं से अत्याधिक परेशानी होती है तो आप देव दीपावली के दिन भक्त शिरोमणि हनुमान जी की प्रतिमा के पास दीपक जलाएं। ऐसा करने से आपके शत्रु परास्त होंगे और आपको दुर्घटनाओं से मुक्ति भी मिलेगी।

आमदनी बढ़ाने के लिए

वहीं अगर आप बहुत अधिक मेहनत करते हैं और फिर भी आपकी आय नहीं बढ़ रही है तो आप देव दीपावली के दिन मां लक्ष्मी के आगे दीपक जला सकते हैं। ऐसा करने से आपकी आय में तो बढ़ोतरी होगी ही साथ ही आपको आय के नए स्रोत भी प्राप्त होंगे।

नौकरी में तरक्की के लिए

अगर आपको नौकरी में तरक्की पानी हो या फिर नई नौकरी प्राप्त करनी हो तो आपको देव दीपावली के दिन भगवान विष्णु के आगे दीपक जला दें। ऐसा करने से आपको नौकरी में तरक्की अवश्य प्राप्त होगी और यदि आप बेरोजगार हैं तो आपको रोजगार भी अवश्य प्राप्त होगा।

परीक्षा में सफलता के लिए

जो विद्यार्थी अपनी परीक्षा को लेकर चिंतित रहते हैं या फिर कोई प्रतियोगी परीक्षा देने जा रहे हैं तो उन्हें देव दीपावली के दिन माता सरस्वती के आगे दीपक जलाना चाहिए। ऐसा करने से आपको आपकी परीक्षा में सफलता अवश्य प्राप्त होगी।

गुरु महेश जैन इंटरनेशनल ज्योतिषाचार्य रानापुर जिला झाबुआ मो.7000098868 .942518809

*********

(अनेक विद्वान् सोमवार को भी देवउठनी एकादशी,मान रहे है) 

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here