इंदौर में पति.पत्नी और सांप की कहानी में पति, ननद और ससुर फंसे

0
1114

लोकल इंदौर ४ नवम्बर . इंदौर में पति पत्नी और सांप की कहानी का पुलिस ने पूरा राज उजागर करते हुए आरोपी पति ,ससुर और नन्द को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है .

उल्लेखनीय है की दो दिन पूर्व सांप के काटने की बात कह कर एक विवाहिता की हत्या का मामला सामने आया था .

पुलिस को  सूचना मिली थी कि शिवानी का पति अमितेश और किराएएदार निखिल उसे एमवाय अस्पताल लेकर आए थे। पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम कर जांच शुरू की। पति और परिवार वाले यही कहते रहे कि सांप ने उसे काट लिया। लेकिन पोस्टमार्टम में यह सामने आया कि महिला की गला घोटकर हत्या की गई है और इसके बाद उसके हाथ में मरे हुए सांप के दांत गड़ाए गए।

पुलिस ने मामले में जांच शुरू की तो पता चला कि शिवानी और उसके पति अमितेश में विवाद होता रहता था। हत्या के इस षडयंत्र में अमितेश उसके पिता ओमप्रकाश पटेरिया और बहन रिचा चतुर्वेदी शामिल थी। प्लानिंग के तहत आरोपी अलवर राजस्थान से 5 हजार रुपए में ब्लैक डेजट कोबरा खरीदकर लाया था, इसे 11 दिनों तक अलमारी में छिपाए रखा। इसके बाद एक दिसंबर को अमितेश ने अपने बच्चों को उनके दादा ओमप्रकाश के साथ घूमने भेज दिया। तभी अमितेश ने शिवानी के मुंह पर तकिया रखकर उसका दम घोट दिया और फिर सांप को मारकर उसके दांत शिवानी के हाथ में गड़ा दिए। इसके बाद अमितेश बाहर निकला और चिल्लाने लगी कि पत्नी को सांप ने काट लिया है। वहां पड़ोसी पहुंचा इसके बाद दिखाने के लिए की सांप अभी जिंदा है उस पर वापस वार किया गया।

जाँच के दौरान पुलिस अधुइकारियों द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण किया गया जहाँ पर बरामदे में एक मरा हुआ सांप पाया गया तथा घटना स्थल को सुरक्षित किया जाकर घटना स्थल से बेड पर बिछी बेड शीट आधे पलंग पर गुडी-मुडी पाई गई .जिसमे सोने जैसी धातु का नाक का एक काटा पाया गया गई तथा तकिये का कवर दोनो पर स्लाईवा जैसे धब्बे प्रतित हो रहे है । जिन्हे जप्त किया गया तथा लाश को मर्चुरी रुम मे सुरक्षित रखवाया गया .दिनांक 02/12/19 को एमवायएच मर्चुरी पहुच कर जाँचकर्ता व्दारा सफिना फार्म जारी किया गया तथा लाश का पंचायत नामा उल्लेख किया गया जिसमे मृतिका के बाये हाथ मे तीन स्थानो पर काले हरे निशान तथा दाहिनी आँख के नीचे चोट (एब्रेशन) है तथा मृतिका के दोनो पैर के पंजे नीचे कि ओर खींचे है दोनो हाथो के अंगुठे अंदर किये हुए मुट्ठीयाँ बंद है । मृतिका के दोनो नथुनो के बाहरी किनारो पर रेडिस होकर नथुनो कि चमडी छीली है ।

मृतिका के फोटो ग्राफ कराये गये तथा पीएम फार्म भरकर मृतिका का पीएम डाक्टरो कि टीम से कराया गया । जाँच के दौरान मृतिका के पति अमितेश पटेरिया, पिता आनन्द कुमार ,माता उर्मिला दीक्षित तथा मृतिका का चचेरा भाई रविकांत दीक्षित तथा किरायेदार निखिल कुमार खत्री के कथन लेख किये गये । जिन्होने अपने कथनो मे बताया कि मृतिका तथा उसके पति अमितेश के बीच पिछले तीन चार वर्षो से झगडे चल रहे है । दिनांक 29/11/19 को अमितेश कि बहन रिचा मृतिका के घर आई थी यहाँ से अमितेश मृतिका और उसके बच्चे वैदिका और वैदिक मृतिका कि नंनद के साथ उसके घर राऊ गये थे रात वही रुके तथा वहाँ से 01/12/19 को सुबह 10 बजे संचार नगर मृतिका अमितेश ,वैदिका ,वैदिक ,रिचा व उसके बच्चे संचार नगर आये । जहाँ से रिचा ने अपने बच्चो के साथ मृतिका के बच्चो को घुमने भेजा तथा मृतिका के ससुर भी घुमने चले गये । उसके बाद रिचा भी अपने घर चली गई थी ।

 पति पत्नि अकेले थे

घर मे पति पत्नि अकेले थे तत्पश्चात चार साढ़े चार बजे अमितेश ने निखिल को आवाज देकर बुलाया के देख तेरी भाभी को सांप ने काट लिया , निखिल ने देखा कि शिवानी बैड पर चीत हालात मे पडी है तथा उसके पास मे एक सांप पडा है जिसे उसने गुप्ता जी कि मदद से स्टंप से हटा कर वही रखे बेट से मारा । तथा मृतिका को अस्पताल ले गये ।

शार्ट पीएम रिपोर्ट में निकला सच 

जाँच के दौरान मृतिका कि शार्ट पीएम रिपोर्ट प्राप्त कि गई जिसमे उसकी मृत्यु दम घुटने (आस्पीसीया) से होना पाई गई । ( DEATH WAS DUE TO ASPHYXIA AS A RESULT OF SMOTHERING )मर्ग जाँच मे कथन साक्षीयो, पीएम रिपोर्ट ,निरिक्षण घटना स्थल तथा परिस्थिती जन्य साक्ष्यो एवं मृतिका के पति व्दारा उसके मोबाईल मे लिये गये फोटो से पाया गया कि मृतिका के पति अमितेश तथा उसकी बहन रिचा व्दारा षडयंत्र पूर्वक शिवानी कि हत्या किया जाना प्रथम दृष्टया प्रतीत होता है । अतः आरोपी अमितेश तथा रिचा के विरुद्ध मामला धारा 302,120 बी,34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध किया जाता है ।

ये बने आरोपी आरोपी
 अमितेश पिता ओमप्रकाश पटेरिया उम्र 36 साल निवासी 215 संचार नगर एक्सटेंशन इन्दौर एक्सीस बैंक दिल्ली मे मैनेजर के पद पर कार्यरत था दिनांक16/11/19 को रिजाईन किया
(2)रिचा चतुर्वेदी पति मनीष चतुर्वेदी उम्र 38 साल निवासी 15 अशोक वाटीका राऊ जिला इन्दौर चैन नेटवर्किंग का काम करती है
(3)ओमप्रकाश पटेरिया पिता स्व. सीताराम पटेरिया उम्र 73 साल निवासी 215 संचार नगर एक्सटेंशन इन्दौरएक्सजूकिटिव इंजीनीयर के पद से जल संसाधन विभाग से रिटायर
इनकी भूमिका रही सराहनीय
उक्त सराहनीय कार्य को करने मे थाना प्रभारी कनाडिया श्री अनिल सिंह चौहान व उनकी टीम उनि अविनाश नागर,सउनि नितिन कुमार भालेराव,सउनि विजय सिंह चौहान, आर. 3577 विनोद यादव, आर. 567 जिशान एहमद कि सराहनीय भूमिका रही ।
लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here