जेआरजी ग्रुप से आयकर को मिला 50 करोड़ रुपये के बेनामी लेन-देन का हिसाब

0
222
लोकल इंदौर १४ जनवरी . जेआरजी ग्रुप परआयकर की इंवेस्टीगेशन विंग की  छापे और जांच की कार्रवाई बुधवार को भी जारी रही। कार्रवाई के दूसरे दिन समूह से जुड़े लोगों के 15 ठिकानों से आयकर विभाग को कुल एक करोड़ 10 लाख रुपये नकद के साथ 50 करोड़ रुपये के बेनामी लेन-देन का हिसाब मिला है। नकदी को विभाग द्वारा जब्त कर लिया गया है। इससे साथ ही मंगलवार को संचालकों के ठिकानों से 20 लाख से ज्यादा की गहने आयकर के हाथ लगे हैं। 100 से ज्यादा बैंक खातों के रिकॉर्ड भी आयकर की टीमों ने जब्त किए हैं।
जेआरजी ग्रुप के संचालक और भागीदार, घनश्याम गोयल, तिलक गोयल, रोशन पोरवाल, अनिल धाकड़ व अन्य सहयोगी आयकर के छापे की जद में हैं। विभाग की टीमें संचालकों के घर और दफ्तरों पर जांच में जुटी है। जांच के दौरान 12 लॉकरों से नकद राशि बरामद हुई। हिसाब नहीं मिलने पर एक करोड़ 9 लाख रुपये विभाग ने जब्त कर लिए हैं। विभाग को समूह द्वारा दिल्ली की फर्मों और कंपनियों से लेन-देन के दस्तावेज मिले थे। फर्मों की जांच के लिए दो टीमें दिल्ली भी भेजी गई थी। दिल्ली के पते पर रजिस्टर फर्म और कंपनियां बोगस पाई गई है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि कालेधन को सफेद करने और एंट्री घुमाने के लिए ही इन कंपनियों को कागज पर खड़ा किया गया। रजिस्ट्रेशन में दिखाए गए कंपनियों के पते भी फर्जी निकले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here