Indore : इंदौर की 6 वर्ष की “जियाना” बनी दुनिया की पहली रिकार्ड होल्डर ! तीन रिकॉर्ड किये अपने नाम !

जियाना भारत की पहली ऐसी छात्रा है जिसने यह अवॉर्ड प्राप्त किया

0
687

लोकल इंदौर 2 अक्टूबर l इंदौर की एक 6 वर्ष  की कक्षा पहली में पढ़ने वाली जियाना शाह दुनिया की पहली ऐसी बच्ची बन गयी है जिसने अपने नाम कई रिकार्ड शनिवार को अपने नाम किये lजियाना शाह ने शनिवार को अपना नाम गिनिज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड, वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकॉॅर्ड ओर  ओएमजी बुक ऑफ़ रिकॉर्ड में दर्ज करा लियाl

जियाना शाह ने  9 मिनट 31 सेकंड और  82 मिली सेकंड में 195 देशों के न केवल राष्ट्रीय ध्वज को पहचाना   बलि्क उन देशों की महत्वपूर्ण जानकारियां भी दी ।  कक्षा पहली में पढ़ने वाली जियाना शाह ने शनिवार को अपना नाम गिनिज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड, वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकॉॅर्ड ओर  ओएमजी बुक ऑफ़ रिकॉर्ड में दर्ज करा लिया। इन तमाम रिकॉर्ड्स में अपना नाम दर्ज कराने वाली जियाना दुनिया की पहली ऐसी बच्ची है जिसनें 6 वर्ष की उम्र में 9 मिनट 31 सेकंड अौर 82 मिली सेकंड में 195 देशों की 7 खास बातों को जाहिर कर दी।

शिवराज सरकार के मंत्री की जबान फिसली : भाजपा एक भी पोलिंग बूथ से न जीते !

जियाना के पिता मयंक शाह बताते हैं कि इन रिकॉर्ड्स के लिए जियाना ने शनिवार को ऑनलाइन सेशन में सवाल-जवाब का सिलसिला चला। इसमें केवल इन संस्थाओं के पदाधिकारी ही शामिल नहीं थे बलि्क 40 विद्यालयों के विद्यार्थियों ने भी अपने-अपने स्कूलों की मदद से यूट्यूब चैनल के जरिए जियाना की स्मरण शकि्त, उसकी मेहनत और प्रयास की होसला अफजाई की। जियाना को निर्णायकों ने इन 9 मिनट 31 सेकंड अौर 82 मिली सेकंड में 195 देशों के झंडे दिखाऐ गए। इन झंडों को पहचानकर उसे उस देश का नाम भी बताना था इसके अलावा उन देशों की राजधानी, मुद्रा, भाषा, देश का प्रसिद्ध पर्यटक स्थल या लैंडमार्क और  महाद्वीप बताना था ।

Air India : सी‍नियर सिटिजंस को किराये में देगी 50 % की छूट !

जियाना भारत की पहली ऐसी छात्रा है जिसने यह अवॉर्ड प्राप्त किया। अससे पहले जिस भारतीय छात्र ने यह रिकार्ड अपने नाम दर्ज कराया उसकी उम्र 8 वर्ष थी और  उसने 13 मिनट में 6 ही जानकारी दी थी। जबकि जियाना ने उससे भी कम वक्त में 7 खास बातें बताई।

मां डॉक्टर नीतू शाह बताती हैं कि जियाना को शुरू से ही इस दिशा में रूचि रही। हमें जब बहसूस हुअा कि इस तरह की बातों में जियाना की दिलचस्पी रहती है तो उसके बारें में उसे जानकारी देना शुरू किया। शुरुअाती दिनों में जरूर हमें तीन-तीन घंटे उसे अध्ययन कराना होता था लेकिन जैसे-जैसे वक्त बीतता गया उसे सब याद होता गया। डेली कॉलेज में अध्ययनरत जियाना को शतरंज खेलने, मार्शल अार्ट, योग, अाउटडोर एि्टविटी अौर अार्ट एंड क्राफ्ट में भी खासी रूचि है।

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here