Indore :दीपावली बाद इंदौर में तोड़े जायेंगे 300 मकान !

बड़ा गणपति-कृष्णपुरा पुल सड़क के बाधक दुकानें भी अगले सप्ताह टूटेंगी

0
785

लोकल इंदौर। भूरीटेकरी से नेमावर रोड नायतामुंडला तक इंदौर विकास प्राधिकरण और नगर निगम द्वारा बनाई जाने वाली आरई-2 सड़क में बाधक 300 मकानों को दीपावली बाद तोड़ा जाएगा। दोनों विभागों ने इस कार्रवाई की तैयारी पूरी कर ली है। यहां प्रभावित लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकानों में शिफ्ट किया जाएगा। सड़क का निर्माण इंदौर विकास प्राधिकरण कर रहा है। पिछले दिनों निगमायुक्त ने भी सड़क का दौरा किया था और यहां से बाधक मकानों को हटाने के निर्देश दिए थे।

आरई-2 सड़क में बाधक मकानों को तोड़ने की कार्रवाई नगर निगम दीपावली बाद तेजी से शुरू करेगा। आयुक्त प्रतिभा पाल ने भी इसके लिए निर्देश दे दिए है। संभवत: एक सप्ताह में यह कार्रवाई शुरू होगी। प्राधिकरण द्वारा बनाई जा रही इस सड़क में 300 मकानों को चिन्हित किया गया था और यहां रह रहे परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना के बने मकानों में शिफ्ट किया जाएगा। अधीक्षण यंत्री महेश शर्मा ने बताया कि शिवनगर, शांतिनगर सहित 4 स्लम बस्तियां हैं जहां सड़क में मकान बाधक है।

इस साल का 11वां मास, आपके लिए कितना रहेगा खास :

बुड़ानिया में बने मकानों में इन लोगों को शिफ्ट करेंगे। इसके लिए 2 लाख रुपए की राशि का भुगतान किश्तों में करना होगा। हर दिन यहां लोगों को समझाइश दी जा रही है और शिफ्टिंग के लिए सहमति बन रही है। मकानों के लिए अधिकारियों को वसूली प्रक्रिया तेज करने के निर्देश भी दिए गए है। रहवासियों से बेटरमेन चार्ज लिया जा रहा है। अधिकारी स्वयं मौके पर जाकर वसूली कर रहे है। 20 नवंबर तक पैसा वसूलना है। जैसे-जैसे पैसा मिलता जाएगा वैसे-वैसे लोगों को मकान का कब्जा दिया जाएगा।

बड़ा गणपति-कृष्णपुरा पुल सड़क के बाधक भी अगले सप्ताह टूटेंगे
इंदौर। बड़ा गणपति चौराहा से कृष्णपुरा पुल तक बनने वाली पौने 2 किमी लंबी और 60 फीट चौड़ी सड़क के बाधक भी दीपावली बाद तोड़े जाएंगे। यहां भी लगभग 100 बाधक अभी खड़े है। स्मार्ट सिटी योजना के अंतर्गत यह सड़क करीब 35 करोड़ में मनाई जाएगी।
निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने पिछले दिनों निरीक्षण के दौरान कहा था कि वर्कऑर्डर जारी होने के बाद 180 दिन में सड़क बना देंगे। स्मार्ट सिटी कंपनी ने वर्कऑर्डर जारी कर दिए है और 9 माह का समय दिया गया है। हालांकि ड्रेनेज, सीवरेज का काम एक से डेढ़ माह में करने की बात कही जा रही है। इसके बाद जहां-जहां साइट क्लियर होगी वहां निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। दीपावली के बाद बचे हुए बाधक भी निगम तोड़ेगा। रिमूव्हल विभाग को कार्रवाई के लिए निर्देशित कर दिया गया है।

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here