Indore : 58 युवाओं की ‘सीएम ब्रिगेड’ मैदान में उतरेगी

0
170
 लोकल इंदौर २९ अगस्त l प्रदेश में मैदानी स्तर पर सरकार का कामकाज और अफसरों का परफॉर्मेंस देखने के लिए एकबार फिर 58 युवाओं की ‘सीएम ब्रिगेड’ मैदान में उतरेगी। इस टीम द्वारा तैयार किए गए डेटा के आधार पर अटल बिहारी वाजपेयी सुशासन संस्थान नई नीतियां तैयार करेगा।
सुशासन संस्थान ने हर जिले में एक रिसर्च स्कॉलर और मुख्यालय में 6 सलाहकार रखने के लिए विज्ञापन जारी किया है। 18 से 32 साल आयु तक के चयनित युवा स्कॉलर बनेंगे और इन्हें 50 हजार रुपए मासिक दिया जाएगा। जबकि एडवाइजर की आयु 25 से 40 वर्ष रखी गई है। इन्हें 60 हजार रुपए मासिक मिलेंगे। सीएम युवा प्रोफेशनल्स i (सीएमवाईपीडी) प्रोग्राम के तहत न युवाओं को स्मार्ट वर्किंग करना होगा। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस सरकार बनने के पहले सीएम की यूथ ब्रिगेड
तैनात हुई थी। इस टीम ने वनाधिकार अधिनियम के मामले में रिसर्च किया था। वहीं यह भी माना जा रहा है कि इस टीम ने सरकार की परफॉर्मेंस की रिपोर्ट देने के साथ विधानसभा चुनाव का फीडबैक भी दिया था। इस बार भी विधानसभा चुनाव के करीब दो साल बचे हैं और इसके पहले यूथ टीम उतारी जा रही है।
Indore : इंदौर पुलिस ने किया अपना आदेश निरस्त !
इस तरह होगी इनकी वर्किंग
पीपुल्स अखबार के अनुसार चयनित युवाओं को ग्राम व जिला स्तर पर योजनाएं लागू कराने, विकास कार्यक्रमों का मूल्यांकन, योजनाओं को लागू कराने  की प्रक्रिया में सुधार कराने सहित विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लेने का अवसर मिलेगा। सीएम की युवा ब्रिगेडदूर दराज के ग्रामों तक पहुंचकर सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में डेटा तैयार करेगी।
आगे के लिए तैयार होंगे नीति विश्लेषक
अटल बिहारी सुशासन संस्थान का मानना है कि यूथ ब्रिगेड संस्थान के इम्पेक्ट बैल्यूएशन में सहयोग करेगी। ये युवा आगे चलकर नीति विश्लेषक की भूमिका निभाएंगे। युवाओं के माध्यम से प्रदेशभर में स्वास्थ्य, शिक्षा, ग्रामीण विकास, समाजिक सुरक्षा, कानून व्यवस्था, बाल पोषण में सुधार, सार्वजनिक सेवा वितरण की गुणवत्ता और प्रभावशीलता में सुधार आदि पर नीति तैयार की जा सकेगी।
लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here