Indore Corona:इंदौर के अरबिंदो अस्पताल में नौ दिन से टंगा है आक्सीजन कमी का बोर्ड

0
271

लोकल इंदौर   २ मई .कोरोना का उपचार करने वाले शहर के सबसे बड़े अस्पताल अरबिंदो हास्पिटल में बीते दिनों ‘आक्सीजन की कमी से भर्ती बंद है’ बोर्ड लगा दिया गया था। नौ दिन बाद भी अस्पताल के दरवाजे पर यह बोर्ड टंगा हुआ है। शासन-प्रशासन शहर में आक्सीजन की आपूर्ति बढ़ने और सुधरने के दावे कर रहा है। बावजूद इसके अरबिंदो अस्पताल से इस बोर्ड का नहीं हटना दावों पर ही सवाल पैदा कर रहा है। बीते वर्ष कोरोना की शुरुआत के साथ अरबिंदो अस्पताल ने कोरोना मरीजों का उपचार शुरू किया था। इस दौरान यह कोरोना के सबसे ज्यादा मरीजों का उपचार करने वाला अस्पताल भी बन गया। 22 अप्रैल को भर्ती को अगले आदेश तक रोकने का बोर्ड लगाया गया था। शनिवार को भी अस्पताल के बाहर यह बोर्ड टंगा था। इस बीच अस्पताल में नए आक्सीजन टैंक को लगाने का काम शुरू हो चुका है।

कई वजह हैं भर्ती नहीं करने की

भर्ती संस्थान चेयरमैन डा.विनोड भंडारी के नियंत्रण में है। हर दिन 15 से 20 मरीजों को ही भर्ती कर पा रहे हैं। सिर्फ आक्सीजन की कमी ही एक वजह नहीं है। यदि हमें आक्सीजन मिल भी जाती है, तो पाइपलाइन, कंप्रेसर, स्टोरेज व अन्य तमाम चीजें भी जरूरी हैं। अभी आक्सीजन लाइन का काम पूरा होने में 15 दिन लगेंगे।

 

प्रशासन क्यों है अनजान?आम पीड़ितों के लिए तो भर्ती बंद का बोर्ड लगा है, लेकिन चुनिंदा मरीजों को बिस्तर दिए जा रहे हैं। स्वास्थ्य सुविधाओं की निगरानी कर रहे प्रशासन का ध्यान भी इस ओर नहीं है। अरबिंदो इंस्टिट्यूट आफ मेडिकल साइंस के प्रशासनिक अधिकारी राजीव सिंह कहते हैं, हम मरीजों को भर्ती कर रहे हैं लेकिन नियंत्रित रूप से।  (जैसा नईदुनिया में छपा )

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here