Indore Crime: इंदौर में डेली कलेक्शन करने युवकों से डेढ़ लाख लूटे

0
509

लोकल इंदौर ४ मार्च . इंदौर में  डेली कलेक्शन  करने वाले दो युवकों  के साथ लूट की घटना सामने आई है ,इन युवकोंपर चाकुओं से  हमला कर उस समय लूटा गया जब ये कलेक्शन एकत्र कर लौट रहे थे .

 जानकारी के अनुसार घटना  खजराना थाना क्षेत्र के मनसब नगर में बुधवार देर शाम  हुई है। घटना  में 20-25 साल के दो बदमाशों ने बाइक सवार डेली कलेक्शन कर्मी को चाकुओं से जख्मी किया। फिर उनका बैग छीनकर भाग गए। हादसे में एक युवक जख्मी हुआ है, जबकि दूसरा बच गया। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

सूत्रों के अनुसार पुलिस को   बॉम्बे हॉस्पिटल से सूचना मिली थी कि हाॅस्पिटल में 25 वर्षीय देवराज पिता लखन सिंह सेंधव निवासी आंचल नगर स्कीम नंबर 140 मूल निवासी सालनखेड़ी सोनकच्छ जिला देवास जख्मी हुआ है। जबकि उसका साथी गोविंद बाल-बाल बच गया है।

पुलिस को घायल ने बयान दर्ज करवाया कि वह स्पंदना स्पूर्ति फाइनेंस लिमिटेड आंचल नगर स्कीम नंबर 140 में कलेक्शन का काम करता है। बुधवार सुबह वह अपने साथी गोविंद की बाइक MP-41- MR 2739 के साथ डेली कलेक्शन के लिए निकला था। गोविंद बाइक चला रहा था, जबकि देवराज पीछे बैठा था। वे दोनों खजराना में डेली कलेक्शन का रुपया कलेक्शन करते हुए राधे विहार कॉलोनी पहुंचे। वहां एक कलेक्शन पाइंट से लोन के 9000 लेकर बैग में रखे। साथ ही सभी मेंबरों के लोन के कागज भी रखे थे।

यह सब पैसा लेकर वे बाबा मनसब नगर में पैसे लेने के लिए निकले थे। इस दौरान बैग देवराज की गोद में रखा था। वे दोनों जैसे ही थोड़ी दूर पर टर्न हुए कि आगे 2 बदमाश खड़े थे। दोनों के हाथ में चाकू थे। दोनों देवराज से बैग छीनने लगे। इस झूमाझटकी में उनकी बाइक नीचे गिर पड़ी, लेकिन देवराज ने बैग नहीं छोड़ा। इस पर बदमाशों ने देवराज के दोनों जांघों पर चाकू मारा। इससे देवराज जख्मी हो गया।

साथी डर के कारण भागा 

हमला होता देख देवराज का साथी गोविंद डर के कारण भाग गया। फिर बदमाश देवराज का बैग छीनकर भाग गए। बैग में करीब 1.55 लाख रुपए और मेंबरों के लोन के कागज रखे थे। जब बदमाश हमला कर रहे थे तो देवराज जोर-जोर से चिल्लाया, तब कोई नहीं आया, लेकिन जैसे ही बदमाश गए तो मोहल्ले के लोग आ गए। देवराज ने बताया कि दोनों बदमाशों ने मुंह पर कपड़ा बांध रखे थे, दोनों की उम्र 20 से 25 साल करीब थी।

पहचान लेगा  बदमाश को 

झूमाझटकी में एक का कपड़ा देवराज ने खींच लिया था, जिसका उसका चेहरा देख लिया। देवराज का कहना है कि यदि वह बदमाश उसके सामने आ जाएगा तो वह पहचान लेगा। घटना के बाद उन्होंने अपने मैनेजर को सूचना दी। फिर बाॅम्बे हॉस्पिटल में भर्ती हुआ। उधर, पुलिस ने लूट का केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here