Indore : Amazon अधिकारियों को नोटिस भेजा: बुधवार को पेश होने के निर्देश

0
294

लोकल इंदौर 29 नवम्बर।  जुलाई माह में ऑन लाइन कम्पनी अमेज़ॉन से जहर मंगाकर  युवक आत्महत्या करने के मामले में गत दिनों प्रदेश के गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा द्वारा सार्वजनिक रूप से मामले में FIR दर्ज करने और कंपनी के अधिकारियों को  बुलाने के आदेश के बाद अब इंदौर पुलिस ने  कम्पनी के दो अधिकारियों को बुधवार को हाजिर होने का नोटिस दिया है।

उल्लेखनीय है कि इंदौर में 18 वर्षीय युवक के अमेजन से ऑनलाइन सल्फास मंगाकर आत्महत्या कर ली थी। युवक के परिजनों द्वारा कम्पनी के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने की मांग की जा रही थी। लेकिन ऐसा नही हो रहा था। गत दिनों गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के इंदौर आगमन पर मृतक युवक के परिजनों ने गृहमंत्री को इसकी शिकायत की थी उसी के बाद गृहमंत्री ने  Fir दर्ज करने के निर्देश देने का साथ कहाथा की यदि वे न आये तो उनसे पुलिसिया तरीके से बुलाया जाय।

देखे वीडियो

Indore : इंदौर में amazon के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया जाएगा – गृहमंत्री ..देखें वीडियो

जानकारी के अनुसार  मामले में पुलिस द्वारा अमेजन के दो अफसरों से कहा गया है कि वे पुलिस के सामने बुधवार को हाजिर हों। पुलिस इस दौरान इस जहरीले पदार्थ के विक्रेताओं के सत्यापन के कानूनी पहलुओं को लेकर विस्तार से जानकारी लेगी।

Indore:इंदौर में मिला युवती का अधजला शव

ये था मामला

दरअसल स्थानीय फल विक्रेता रंजीत वर्मा ने अपने बेटे आदित्य वर्मा द्वारा अमेजन को जुलाई में ऑनलाइन ऑर्डर देकर सल्फास मंगाने और यह जहरीला पदार्थ खाकर जान देने की घटना को लेकर इस ई-कॉमर्स कम्पनी के खिलाफ मामला दर्ज किए जाने और इसके संबंधित अफसरों की गिरफ्तारी की गुहार लगाई थी । लेकिन कार्यवाही गृहमंत्री के  हस्तक्षेप के बाद मामले में पुलिस ने अमेजन के अधिकारियों को तलब किया है।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार मृतक के पिता की शिकायत पर हमने इस कम्पनी के कारोबार विकास और सूचना प्रौद्योगिकी (IT) विभागों के दो अफसरों को नोटिस जारी किया है। एएसपी ने बताया कि नोटिस के जरिये अमेजन के अफसरों से कहा गया है कि वे पुलिस के सामने बुधवार को हाजिर हों। उन्होंने बताया, इन अफसरों के हाजिर होने पर हम उनसे अमेजन पर सल्फास की ऑनलाइन बिक्री और इस जहरीले पदार्थ के विक्रेताओं के सत्यापन के कानूनी पहलुओं को लेकर विस्तार से जानकारी लेंगे।

भिंड में भी ऐसा ही प्रकरण

गौरतलब है कि प्रदेश के भिंड जिले में पुलिस ने हाल ही में एक पादप आधारित स्वीटनर (स्टीविया) की आड़ में मादक पदार्थ गांजे का अवैध व्यापार करने वाले गिरोह का खुलासा करने के बाद अमेजन इंडिया के कार्यकारी निदेशकों के खिलाफ एनडीपीएस अधिनियम के संबद्ध प्रावधान के तहत मामला दर्ज किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here