Indore:इस्पोरा की छवि खराब करने वालों को नोटिस

कुछ खेल पत्रकार फिर संघटन के साथ

0
195

लोकल इन्दौर 19 अक्टूबर । खेल पत्रकारों और लेखकों की संस्था इंदौर स्पोट्र्स राइटर्स एसोसिएशन (इस्पोरा) के बारे में गलत बयानी करते हुए छवि खराब करने वाले लोगों के खिलाफ संगठन सख्त हो गया है और अब कार्रवाई की जाएगी। ऐसे लोगों को कारण बताओ नोटिस भेजने का कार्यकारिणी समिति ने फैसला किया है।इस्पोरा अध्यक्ष ओम सोनी की अध्यक्षता में स्थानीय अभय प्रशाल में कार्यकारिणी समिति की बैठक संपन्न् हुई। गत दिनों कुछ लोगों ने समानांतर बैठक कर संगठन पर आर्थिक अनियमितताओं सहित विभिन्न् मिथ्या आरोप लगाए गए थे। ऐसा करने वालों के खिलाफ निंदा प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया गया।

यह जानकारी देते हुए सचिव विकास पांडे ने बताया कि बैठक में वरिष्ठ पत्रकार सुभाष सातालकर, रवि तिवारी और खेल लेखक धर्मेश यशलहा ने कहा कि वे संगठन विरोधी सुरों के साथ नहीं हैं। उन्हें नहीं पता था कि समानांतर बैठक आयोजित होकर उसमें इस तरह की संगठन विरोधी बातें होंगी। इन्होंने वर्तमान कार्यकारिणी पर भरोसा जताया।

बैठक में सदस्यों को बीते सालों का आय-व्यय का ब्यौरा दिया गया। संगठन में जमा राशि में लगातार बढ़ोतरी हुई है और इस राशि को एफडी कराने पर सहमति बनी। संगठन पर आर्थिक अनियमितताओं के आरोप लगाने वाले अशोक कुमठ के खिलाफ कानूनी नोटिस भेजा जाएगा। इसके अलावा संगठन की छवि खराब करने वाले बयान देने पर सूर्यप्रकाश चर्तुर्वेदी, अशोक कुमठ, गोविंद मालू, नरेंद्र भाले और सुशीम पगारे को कारण बताओ नोटिस जारी किया जा रहा है।

अध्यक्ष ओम सोनी की अध्यक्षता में अनुशासन समिति का भी गठन किया गया।खिलाडिय़ों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से होने वाले सालाना पुरस्कारों के लिए समिति गठित की गई है, जिसके संयोजक सचिव विकास पांडे होंगे।

Indore इस्पोरा : आलोकतांत्रिक गठन के खिलाफ तदर्थ समिति गठित

उल्लेखनीय है गत दिनों संगठन को अलोकतांत्रिक  ढंग से चलाने का आरोप लगाते हुए कुछ खेल पत्रकारों द्वारा बैठक कर  वर्तमान पदाधिकारियों से संगठन को सुचारू रूप से संचालित करने हेतु एक तदर्थ कमेटी बना कर संस्था से बातचीत कर लोकतंत्र बहाल करने की बात कही गई थी।

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here