Indore : इंदौर में की पिगडंबर घटना के आरोपियों के अवैध निर्माण ढहाने की कार्यवाही ..देखे वीडियो

मुख्यमंत्री की चेतावनी अपराधियों को बख़्शा नहीं जाय

0
978

लोकल इंदौर l किशनगंज थाना क्षेत्र के गांव पिगडंबर में  कल रात हुई घटना में युवक सुजीत ठाकुर की मृत्यु के बाद सात आरोपियों को चिन्हित कर उनके द्वारा किए गए अवैध निर्माण ढहाने की कार्रवाई की जा रही हैlसाथ ही हिंसा के इस घटना की छानबीन की जा रही हैl प्रारंभिक जाँच के बाद लोकेश वर्मा, मलकेस वर्मा, मन्नू कन्हैया लाल, रोहित बनबारी, भूरा सुंदर, दरसन प्रकाश और राकेश डान को चिन्हित किया गया हैl

जिला दंडाधिकारी श्री मनीष सिंह ने कहा है कि मुख्यमंत्री के स्पष्ट निर्देश हैं कि कहीं पर भी अपराधियों को बख़्शा नहीं जाए। उन्होने साफ़ शब्दों में चेतावनी दी है कि इन्दौर ज़िले में अपराधियों और क़ानून हाथ में लेने की नापाक़ कोशिशों को बर्दास्त नहीं किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि किशनगंज थाना क्षेत्र के गांव पिगडंबर में बुधवार को प्लाट पर बोरिंग को लेकर हुए विवाद में बड़ा रूप ले लिया था । दोनों पक्षों में जमकर मारपीट और चाकूबाजी हुई। घटना में भाजपा नेता उदल सिंह चौहान के बेटे सुजीत की हत्या कर दी गई। इससे नाराज ग्रामीणों ने एवी रोड पर चक्काजाम कर दिया। इससे इंदौर व पीथमपुर की ओर करीब दस किमी तक कुत लंबा जाम लग गया। हंगामाइयों ने कई स गाड़ियों में तोड़फोड़ की, वहीं एक बाइक  और एक एसयूवी में आग लगा दी। इस दौरान लाठी-डंडों के साथ धारदार हथियार वी भी चले। एबी रोड पर तीन घंटे जामलगा रहा जो ररत सवा 11 बजे खुला।

Indore :इंदौर में फिर लव जिहाद का मामला सामने आया

अश्रु गैस छोड़ना  पड़ी 

दोपहर में गांव पिगडंबर की एक कालोनी में बोरिंग लगाने को लेकर विवाद हुआ था। जिस प्लाट पर बोरिंग हो रहा था, वह संगीता राजेश मेव के नाम पर है। इस विवाद में एक पक्ष महू से था। विवाद बढ़ने पर बड़ी संख्या में लोग महू से आए और चाकूबाजी करने लगे। इस दौरान कुलदीप पंवार से मारपीट की गई। इसमें कुलदीप गंभीर घायल हो गए। इस दौरान सुजीत राऊ स्थित होटल से घर लौट रहा था, तभी उस पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। झगड़े में घायल सुजीत की देर शाम मौत हो गई। वह लॉ का विद्यार्थी था। इससे लोग भड़क गए और एबी रोड पर चक्काजाम कर दिया। किशनगंज थाने की पुलिस पहुंची लेकिन इसका भी असर नहीं हुआ। एसडीएम जैन ने जानकारी कलेक्टर समेत दूसरे अधिकारियों को दी। इंदौर से डीआइजी देहात चंद्रशेखर सोलंकी पुलिस बल के साथ महू पहुंचे। पुलिस ने भीड़ पर अश्रु गैस का गोला छोड़ा। इसके बाद लोग हटे और रात करीब सवा 11 बजे जाम खुल सका।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here