Indore Youth : सेल्यूट अजय : 4 बार किया प्लाज्मा डोनेट और भी लोगों की जान बचाने की ख्वाहिश

0
447
 लोकल इंदौर ६ मई . कोरोना की इस महामारी में जब  सब ओर भय का वातावरण है तब अजर  आहेर जैसे नवयुवक भी  है  विगत ६ माह में  चार बार प्लाज्मा डोनेट कर चुके है ।अभी में मन में इस बात की ललक है कि मैं  ओर ऐसा कर किसी की जान  बचा सकूं ।
बजरंग नगर इंदौर में रहने वाले ३३ वर्षीय अजय बताते हैं कि सितंबर 2020 में कोविड पॉजिटिव होने की जानकारी फीवर क्लीनिक पर टेस्ट कराने पर पता चली। अरबिंदो हॉस्पिटल में 5 दिन एडमिट रहा।फिर 20 दिन घर पर आइसोलेशन का पालन किया।
करीब एक माह बाद ही 23अक्तूबर  को  अरबिंदो हॉस्पिटल में प्लाज्मा  की आवश्यकता होने पर मुझसे संपर्क किया गया। मैंने सहर्ष जा कर प्लाज्मा डोनेट कर दिया .उसके बाद 30 दिसंबर  को दूसरी व 04.मार्च 2021 को तीसरी बार अरबिंदो हॉस्पिटल में ही डोनेट किया गया।  अभी 02 मई .2021 को ग्रेटर कैलाश हॉस्पिटल में चौथी बार डोनेशन किया गया।
 अजय बताते है ” कोरोना काल से पहले भी कई बार रक्तदान का अवसर प्राप्त हुआ।पहली बार अपनी मां के एक ऑपरेशन के लिए रक्तदान किया था.तब से यह सिलसिला चलता रहा।प्लेटलेट भी 2 बार डोनेट किए था।अतः डोनेशन की पूर्ण जानकारी थी।”
मुझे कोरोना होने के बाद प्लाज़्मा डोनेशन के लिए घर से भी पूर्ण सहयोग प्राप्त हुआ। 3 बार डोनेट करने के बाद और अभी बढ़ते हुए कोरोना को देखते हुए व घर में छोटे बच्चों को ध्यान में रखते हुए घर वालो ने मना भी किया। परन्तु जब भी प्लाज़्मा डोनेशन के लिए मेरे पास फोन आते तब मुझे मना करने में बड़ा कष्ट होता था।परिवार ने जब यह देखा तो उन्होंने भी पुनः प्लाज़्मा डोनेट करने जाने के लिए खुशी से अपना समर्थन दिया। बीएसएनएल में कार्यरत आजी की इस मानवीय सेवा के लिए उन्हें प्रदेश स्तर पर सम्मानित करने की मांग की गयी है .
लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here