नाबालिग लडकियां जा रही थी साड़ी पहन कर फिर …… !

0
1775

लोकल इंदौर ९ नवम्बर।पीथमपुर (धार) में रहने वाली तीन नाबालिग  को यहीं पर बेसन फैक्ट्री में काम करने वाले तीन युवकों ने  प्यार के जाल में फंसाया और उन्हें शादी का झांसा देकर झारखंड बुला लिया था। तीनों युवतियो  ने साड़ी  पहन रखी थी  ताकि उनकी उम्र छिप  जाय। अपना घर छोड़ कर भाग रही तीनों नाबालिगों के पास उनके पहचान पत्र, स्कूल की मार्कशीट व अन्य दस्तावेजमिले।  जीआरपी थाना प्रभारी गायत्री सोनी के अनुसार तीनों लड़कियों की उम्र 13 से 14 वर्ष है।

जानकारी केअनुसार  रेलवे पुलिस ने जांच के दौरान कम उम्र की लड़कियों को साड़ी पहने देखा तो उन्हें शंका हुई। उनसे पूछा तो वो बोली कि हम शादी करने जा रहे हैं। पुलिस ने जब उनसे सख्ती से पूछताछ की तो पता चला कि पीथमपुर की बेसन फैक्ट्री में काम करने वाले तीन युवकों ने नाबालिगों को प्यार के जाल में फंसाया और उन्हें शादी का झांसा देकर झारखंड बुला लिया था। युवकों ने इन तीनों नाबालिगों के ट्रेन टिकट भी करवा दिए थे। शनिवार रात ये तीनों नाबालिग ट्रेन में बैठकर जा रही थी। जीआरपी थाना प्रभारी गायत्री सोनी के मुताबिक तीनों नाबालिगों के पास उनके पहचान पत्र, स्कूल की मार्कशीट व अन्य दस्तावेज थे। दस्तावेजों के अनुसार तीनों लड़कियों की उम्र 13 से 14 वर्ष है। नाबालिगों ने बताया कि झारखंड के युवकों ने ही उन्हें पहनने का झांसा देकर बुलाया था। हमने उन्हें रेलवे चाइल्ड लाइन को सौंप दिया है। ये लड़कियां एक ही कॉलोनी में आसपास रहती है और इनके परिजनों को भी यह पता नहीं था कि शादी के चक्कर में ये घर छोड़कर भाग जाएगी। उन्हें अभी तक यही लग रहा था कि ये अपनी सहेलियों के घर गई है। चाइल्ड लाइन द्वारा नाबालिगों को उनके परिजनों को सौंप दिया गया है।

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here