Indore News : मोदी सरकार भी इंदिरा गांधी सरकार के नक्शे कदम पर :हश्र भी वैसा ही होगा -असलम शेर खान

0
249

लोकल इंदौर ३ फरवरी। पूर्व केंद्रीय मंत्री असलम शेरखान बुधवार को इंदौर पहुंचे। इस दौरान शेरखान  ने  मीडिया से चर्चा करते हुए मोदी  सरकार  पर निशाना साधते हुए पर कहा कि यह सरकार भी इंदिरा गांधी सरकार के नक्शे कदम पर आगे बढ़ रही है। 1977 में इंदिरा सरकार भारी बहुत से आई थी, लेकिन उन्होंने जो इमरजेंसी लगाई, सख्ती की, लोगों को गिरफ्तार किया, लाठियां बरसाईं, नसबंदी करवाई। इस अत्याचार का जवाब देने के लिए लोगों ने चुनाव आने का इंतजार किया। मोदी सरकार का हश्र भी बिल्कुल 1977 जैसा ही होने वाला है।

मध्यप्रदेश को लेकर उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश कांग्रेस में अब कोई खींचतान ही नहीं है। उन्होंने बताया कि कमलनाथ (कमलनाथ) पर निर्भर है कि वह दिल्ली में रहकर या मध्यप्रदेश में रहकर काम करें, कोई खींचतान नहीं है।

ज्योतिरादित्य सिंधिया के जाने से कांग्रेस को हुआ भारी नुकसान

असलम शेर खान  ने कहा कि सबसे बड़ी बात है ज्योतिरादित्य सिंधिया  का कांग्रेस पार्टी से जाना। अगर सिंधिया को ये लोग कांग्रेस में सम्मान देते हैं तो आज प्रदेश में सरकार नहीं गिरती। मध्यप्रदेश में सरकार गिरी है तो ज्योतिरादित्य सिंधिया  के जाने से और नई सरकार बनी तो वह भी सिंधिया के समर्थन से। कांग्रेस के लिए सबसे बड़ी दुर्भाग्यपूर्ण बात हुई है। मध्यप्रदेश की कांग्रेस के लिए जो एक पहलू था और एक बड़ा फ्यूचर था विशेष रूप से मैजोरिटी कम्युनिटी के अंदर , ज्योतिरादित्य को युवा काफी पसंद करते हैं मुझे लगता है कि कांग्रेस को सबसे बड़ा नुकसान हुआ है ज्योतिरादित्य सिंधिया के जाने के।

प्रणव मुखर्जी को प्रधानमंत्री बनाया जाता तो आज कांग्रेस को ये दिन नहीं देखना पड़ता

वहीं उन्होंने कहा कि 2009 में कांग्रेस पार्टी को ये बात तय करनी थी कि कोई पॉलिटिकल लीडर को पीएम बनाना था और अगर उस समय प्रणव मुखर्जी को प्रधानमंत्री बनाया जाता तो आज कांग्रेस को ये दिन नहीं देखना पड़ता। इसी तरह से कांग्रेस को जल्द ही कोई नया अध्यक्ष बनाना चाहिए और कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव नहीं होने से पूरे  भारत मे कांग्रेस को नुकसान हुआ है और संगठन इतना कमजोर हुआ है।

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here