नए लॉक डाउन की गाइड लाइन जारी,देश को 5 झोन में बांटा

0
3322

लोकल इंदौर 17 मई। केंद्र सरकार ने लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ा दिया है। साथ ही केंद्रीय गृहमंत्रालय की ओर से गाइडलाइन भी जारी कर दी गई है। अब पूरे देश को पांच जोन में बांटा गया है। ये जोन हैं – रेड जून ग्रीन झोन ऑरेंज ऑन  कंटेनमेंट बोर्ड जून  और  बफर जोन । इससे पहले देश कोोो तीन जोन में बांटा गया था। लव डॉन में छूट संबंधी और लागू करनेेेेे के राज्य सरकारों को जवाबदारी सौंपी गई है  वे केंद्रीय के दिशा निर्देशों के अनुसार   लोक।डाउन  का पालन अपने हिसाब से कराएंगे ।इसकेेेेेेेेेेे तहत अंतर राज्य आवागमन को भी अपने हिसाब से सुनिश्चित कर सकते हैं

रेड झोन: वे इलाके जहां कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं या आ रहे हैं, उनके सरकार ने रेड जोन में रखा है। यहां सख्त पाबंदियां लागू हैं और आगे भी रहेंगी। लोगों को घरों में ही रहने होगा, सिर्फ जरूरी काम होने पर ही बाहर निकल सकते हैं। 10 साल से छोटे और 65 साल से अधिक उम्र के लोगों को घरों से नही निकल सकेंगे।

ऑरेंज झोन   ऑरेंज जोन में वे इलाके हैं जहां कोरोना के केस तो सामने आ रहे हैं, लेकिन लगातार सुधार भी हैं। स्थानीय प्रशासन ने यहां कई तरह की छूट दी है। इन इलाकों में प्रशासन द्वारा लॉकडाउन, सील या फिर अन्य एहतियाती कदम उठाए गए हैं।

 ग्रीन झोन: ग्रीन जोन वे इलाके हैं जो कोरोना संक्रमण से मुक्त हैं। यहां के लोगों की जिंदगी बाकी जोन की तुलना में बहुत आसाना है। लगभग सभी तरह की सुविधाएं चालू हैं। हालांकि लोगों को बाहर निकलने पर मास्क लगाना और फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है।

बफर जोन बफर जोन वे जिले हैं जो रेड जोन वाले जिले से सटे हैं। सरकार को आशंका है कि इन जिलों पर ढिलाई बरतने पर पड़ोस के जिले के रेड जोन का असर यहां भी हो सकता है। इसलिए ऐसे जिलों को अलग जोन में बांटकर नजर रखी जा रही है, ताकि यहां नए केस आने से बचाया जा सके।
कंटेनमेंट  झोन: यह ऐसे इलाके हैं जहां कोरोना संक्रमण केस में लगातार उतार-चढ़ाव आ रहा है। यानी कभी नए केस कम आ रहे हैं तो कभी बहुत ज्यादा केस आ रहे हैं।
लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here