Honey Trap मामले में इसलिए बदले SIT के अफसर ..गृह मंत्री बाला बच्चन ने किया खुलासा

0
457

लोकल इंदौर २ अक्टूबर .Honey Trap मामले में एसआईटी में बदलाव का मकसद दूध का दूध और पानी का पानी करना है। षडयंत्र में जो भी लोग शामिल हैं उनके नाम जल्द सामने आएंगे।

यह बात इंदौर में प्रदेश के  गृह मंत्री बाला बच्चन ने  कही .महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के मौके पर सर्वधर्म सभा में हिस्सा लेने इंदौर पहुंचे गृह मंत्री ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि मामले की गंभीरता को समझते हुए डीजी और एडीजी लेवल के अधिकारियों को जांच की जिम्मेदारी दी गई है। मामले के आरोपियों पर राजनीतिक दबाव के बारे में सवाल पूछने पर मंत्री ने कहा कि किसी भी आरोपी पर कोई राजनीतिक दबाव नहीं है। हनी ट्रैप में जो भी दोषी होगा चाहे वह पक्ष का हो या विपक्ष का वह कार्रवाई से बच नहीं पाएगा।

नौ दिन में  तीसरा बदलाव 
हनी ट्रैप केस की जांच के लिए राज्य सरकार ने डीजी स्तर के सीनियर आईपीएस अधिकारी राजेंद्र कुमार को एसआईटी का जिम्मा सौंपा है। मौजूदा एसआईटी चीफ संजीव शमी को बदलकर पुलिस भर्ती एवं एंटी नक्सल आपरेशन में भेजा गया है। नौ दिन पहले बनी एसआईटी में यह तीसरा बदलाव है। राज्य सरकार ने हनी ट्रैप केस की जांच के लिए 23 सितंबर को एसआईटी गठित की थी।

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here