Sunday, May 9, 2021
Home Tags कविता/ राजेश राणा /ओपन माइक

Tag: कविता/ राजेश राणा /ओपन माइक

ओपन माइक में आज राजेश राणा की कविता “परिंदो”

परिंदो परिंदो, तुमने कभी शिकायत नही की , कि हवा जहरीली है ,  झील का पानी खारा है , रहने को पेड़ कम बचे है , अब हमारा क्या गुजारा...