आर्ट ऑफ़ लिविंग का ‘हैप्पीनेस प्रोग्राम’ और ‘सहज ध्यान’ शिविर सम्पन्न

0
119

धार। शहर में श्रीश्री रविशंकर संस्था द्वारा संचालित आर्ट ऑफ़ लिविंग और व्यक्तित्व विकास केंद्र द्वारा पाँच दिवसीय ‘हैप्पीनेस प्रोग्राम’ और ‘सहज समाधि ध्यान योग’ शिविर का आयोजन किया गया। सुमतिनाथ जैन मंदिर में आयोजित इस शिविर में 50 से ज्यादा लोगों ने भाग लिया। इस शिविर के मुख्य शिक्षक मंदसौर के खुमानसिंह चुण्डावत थे। इस शिविर में योग, सुदर्शन क्रिया और ध्यान द्वारा जीवन जीने की कला सिखाई गई।

कुक्षी की नेहा सोनी ने बताया कि इस ध्यान, योग शिविर में सुदर्शन क्रिया और सहज समाधि के बाद से मेरा मन प्रफुल्लित रहने लगा और ध्यान लगाना बहुत आसान हो गया। पत्रकार, लेखक और वकील एकता शर्मा ने बताया की सुदर्शन क्रिया के बाद उन्हें एक अलग ही अनुभूति हुई और सकारात्मक विचार शुरू हुए! इस कोर्स के बाद उन्हें जीवन का एक अलग ही नजरिया मिला! उनकी काम करने और विचार की क्षमता में बढ़ोत्तरी हुई है। शासकीय सेवा से रिटायर्ड कर्मचारी शंकरलाल वर्मा बताते है की इस कोर्स से उन्हें उबाऊ जीवन से मुक्ति मिली और कुछ  नया करने की इच्छा जागृत हुई है। डॉ श्रीमती प्रमिला गुप्ता के मुताबिक तो उन्हें पहले ही दिन लगा कि उनका बचपन लौट आया! जबकि, डॉ रविकांत बोरदिया का कहना था कि इस शिविर से उनमें नई ऊर्जा का संचार हुआ। ऐसे ही अनुभव अन्य लोगों ने भी साझा किए और बताया की कोर्स के बाद उनके सोच और जीवन में सकारात्मक बदलाव आया है। इस कार्यक्रम के संयोजक नलिनी दीदी, सुनीता भाटिया सुरेश भाटिया थे। उन्होंने बताया की 5 दिवसीय कोर्स के बाद समय-समय पर फॉलोअप प्रोग्राम भी आयोजित किए जाएंगे। एक बार आर्ट ऑफ़ लिविंग में रजिस्ट्रेशन करने के बाद आप आजीवन समय-समय पर निशुल्क कोर्स कर सकते है और फ़ॉलोअप प्रोग्राम में भाग ले सकते है।

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here