बोले प्रदेश के गृहमंत्री मेरे रहते इंदौर एसजीआईटीएस का निजीकरण नहीं हो सकता

0
50

लोकल इंदौर ३० अगस्त .प्रदेश के गृह मंत्री बाला बच्चन ने शुक्रवार को इंदौर में मीडिया से कहाकि इंदौर केएसजीएसआईटीएस कालेज का निजीकरण
नहीं होगा . मै खुद इस संसथान का छात्र रहा हूँ . गौरतलब है कि निजीकरण की सुगबुगाहट के चलते कॉलेज के छात्रों के साथ ही प्रोफेसरों द्वारा विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। छात्रों का कहना है जरूरत पड़ने पर आंदोलन करेंगे। मेरे रहते एसजीआईटीएस का निजीकरण नहीं हो सकता।

शुक्रवार को एसजीआईटीएस की गवर्निंग बॉडी की मीटिंग के बाद गृह मंत्री ने मीडिया से यह बात कही .गौरतलब है कि निजीकरण की सुगबुगाहट के चलते कॉलेज के छात्रों के साथ ही प्रोफेसरों द्वारा विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। छात्रों का कहना है जरूरत पड़ने पर आंदोलन करेंगे।

सालाना 20 करोड़ की ग्रांट
जानकारी के अनुसार एसजीएसआईटीएस को सालाना 20 करोड़ की ग्रांट अलग-अलग सोर्स से मिलती है, लेकिन निजीकरण होने की स्थिति में यह ग्रांट डूब जाएगी। संस्थान के 45 फीसदी तक खर्चे ठप हो जाएंगे। फिलहाल संस्थान को हर साल 10 करोड़ रुपए राज्य शासन की तरफ से ग्रांट मिलती है। जबकि पांच करोड़ रुपए की सालाना ग्रांट यूजीसी, एआईसीटीई, डीएसटी की तरफ से मिलती है। सालाना 5 करोड़ रुपए की ग्रांट तीन साल तक भारत सरकार की स्कीम से भी मिलेगी।

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here