ये हैं इंदौर के राहुल गांधी …जिनकी पहचान पर करते हैं सब शक!

0
518

लोकल इंदौर ३० जुलाई . इंदौर में भी एक राहुल गांधी है जिन्हें न तो कोई टेलीकॉम कम्पनी सिम देती है न उनका ड्राईविंग लायसेंस बना है ,जब वे भी कही अपना आईडी देते है तो सामने वाला पूछता जरूर है की कहीं ये नकली तो नही है .

ये कहानी है इंदौर के एरोड्रम रोड पर अखंडनगर में रहने वाले एक युवक की .उनका नाम है राहुल और सरनेम है गांधी। राहुल गांधी (नाम और सरनेम ) के कारण अकसर लोग उनका मजाक उड़ाकर ये कह देते हैं कि ये आईडी फर्जी तो नहीं है? असल नाम क्या है बताएं? 23 वर्षीय राहुल पिता राजेश गांधी कपड़ा व्यापारी हैं। उनका कहना है कि राहुल नाम और गांधी सरनेम के कारण उन्हें किसी कंपनी ने सिम नहीं दी। कंपनी डॉक्यूमेंट पर नाम देखकर ही इनकार कर देती थी। आखिर में उन्होंने अपने छोटे भाई के नाम से सिम ली। जब वे मोबाइल या कोई अन्य सामान लेने भी जाते हैं तो बिल उनके नाम से नहीं बनाया जाता।हाल ही में जब उन्होंने लोन के लिए आवेदन दिया अौर बैंक ने इनकार कर दिया तो वे काफी परेशान हो गए। इसके बाद से सरनेम बदलकर उन्होंने समाज का नाम मालवीय लिखना शुरू कर दिया। सभी डॉक्यूमेंट्स में भी वे अब बदलाव करवा रहे हैं।

लोकल इंदौर का एप गूगल से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें... 👇 Get it on Google Play

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here