वो उल्का पिंड नहीं बल्कि चीनी रॉकेट चेंग झेंग 3बी के टुकड़े थे…! मिला सबूत

0
748
लोकल इंदौर l शनिवार रात आसमान से गिरने वाली जिस चीज को  उल्का पिंड बताया जा रहा था उसके कुछ टुकड़े महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले में में गिरे है l इससे साबित हुआ कि वो उल्का पिंड नहीं बल्कि चीनी रॉकेट चेंग झेंग 3बी के अंश थेl
ये था उस रात का वीडियो :
बताया जा रहा है कि उस रात आसमान में दिखे अनोखे नजारे के बाद जो चीज जमीन पर गिरीं, उनमें से एक लोहे की बड़ी रिंग जैसी है। यह रिंग और एक गोलाकार वस्तु महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले में मिली है। अमरीकी वैज्ञानिक जोनाथन मैकडॉवल का दावा है कि जो चीज धूं-धूं जलती नजर आई थी. वह चीनी रॉकेट चेंग झेंग 3बी के अंश थे।
 उल्लेखनीय है कि इंदौर और आसपास के क्षेत्र सहित म्हार्शत्र्के इलाकों में भी   शनिवार रात करीब 8 बजे  आसमान में  रोशनी की एक लहर सी दिखाई दी थी l उसे उस समय उल्का पिंड बताया जा रही था l  हालांकि  विशेषज्ञ  इसे लेकर एकमत नहीं नजर आए। रोशन पिंडों की लंबी सी रेखा  को किसी ने  उल्का पिंड ही माना  तो किसी ने इसे पुराने सैटेलाइट के  टुकड़े करार दिया,  कुछ इसे  वायुमंडलीय उड़न तश्तरी कह रहे थे तो कुछ घर्षण के कारण जल उठे होंगे। उल्का पिंडों की बारिश समझ रहे कोई इसे अंतरिक्ष का कचरा भी थे।
उधर, अमेरिकी वैज्ञानिकों ने दावा किया कि यह चीन के एक रॉकेट का मलबा था, जो पृथ्वी के वायुमंडल में वापस आया था। चीन ने इसे पिछले साल फरवरी में प्रक्षेपित किया था। इंदौर के राम श्रीवास्तव ने कहा यह डेड सैटेलाइट का हिस्सा भी हो सकता है। यही साबित भी हुआ कि वह चीनी रॉकेट चेंग झेंग 3बी के अंश थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here